Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

हिमाचल की दो योजनाएं राष्ट्रीय सम्मान के लिए नामांकित

         प्रदेश में कुछ सालों से यह परियोजनाएं चलाई जा रही हैं जिससे प्रदेश में प्रदूषण कम हो रहा है

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

हिमाचल प्रदेश में चलाई जा गई ‘वार्ड मेंबर मीनू का सफाई अभियान’ और ‘हिमगिरह’ योजनाएं राष्ट्र स्तरीय स्कॉच पुरस्कार के लिए नामांकित की गई हैं। स्कॉच ग्रुप 1997 से समावेशी विकास पर ध्यान देने के साथ सामाजिक-आर्थिक मुद्दों से निपटने वाला भारत का अग्रणी थिंक टैंक है, जो राष्ट्र में चल रही विकासात्मक योजनाओं को पुरस्कृत करता है। 

प्रदेश में प्रदूषण के बारे में जागरूकता फैलाने और इसे कम करने के लिए दोनों योजनाओं के पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया है। पुरस्कार के विजेता जनमत से चुने जाते हैं। लोग https://exhibition.skoch.in/beacons-of-hope-voting/ पर जाकर प्रदेश के लिए वोट डाल सकते हैं। प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के जन जागरूकता अधिकारी शशि शेखर ने बताया कि प्रदेश की योजनाओं का चुना जाना गर्व की बात है। प्रदेश में कुछ सालों से यह परियोजनाएं चलाई जा रही हैं जिससे प्रदेश में प्रदूषण कम हो रहा है।

हिमाचल प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने बच्चों में स्कूलों में सफाई के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए ‘वार्ड मेंबर मीनू का सफाई अभियान’ नामक कॉमिक निकाली थी। इसमें मुख्य नायिका मीनू नौ कहानियों के जरिए अपने घर के आस-पास सफाई करके लोगों को जागरूक करती है। कहानियों में सभी प्रकार के कूड़े के निपटान के बारे में बताया गया है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने कॉमिक की 18500 कॉपियां प्रदेश के स्कूलों में बांट कर बच्चों में जागरूकता फैलाई थी।

हिमाचल प्रदेश ग्रीन स्टार रेटिंग इनिशियेटिव (हिमगिरह) प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की योजना है जिसमें होटलों को पर्यावरण अनुकूल होने के लिए रेटिंग दी जाती है। पानी का बचाव ,पर्यावरण कि लिए अनुकूल धातुओं का अपयोग और होटल में कितने अपशिष्ट का निपटारा कैसे किया जा रहा है, इस आधार पर होटलों को ऑनलाइन पोर्टल पर रेटिंग दी जाती है। पर्यटक ग्रीन रेटिंग देख कर अपने लिए होटल चुन सकते हैं।


Post a Comment

0 Comments

ट्रक चला रहे व्य​क्ति के साथ अचानक घटी यह घटना