Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

500 रुपये प्रतिकिलो बिक रहा है लहुसन

                                सरसों तेल, रिफाइंड और जीरे के रेट घटे, लहसुन के दाम 500 पार

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

रसोई के बजट को लहसुन के लगातार बढ़ते दामों ने बड़ा झटका दिया है। हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में लहुसन 500 रुपये प्रतिकिलो तक बिक रहा है। लहसुन के दामों में करीब एक हफ्ते में 100 रुपये प्रतिकिलो की बढ़ोतरी हुई है। हालांकि इस दौरान सरसों तेल, रिफाइंड और जीरे के घटे दामों से कुछ राहत मिली है।कारोबारियों का कहना है कि लहसुन के दाम आसमान पर पहुंचने का कारण कम पैदावार होना है।

जिन राज्यों में लहसुन की सबसे ज्यादा खेती की जाती है, वहां इसकी पैदावार में 30 फीसदी की कमी आई है। पिछले वर्ष बरसात में लहसुन की फसल को बर्बाद हो गई थी।इसके साथ ही, किसानों को पिछले कुछ साल से लहसुन की फसल में घाटा हो रहा था, जिसके चलते उन्होंने लहसुन की खेती करना कम कर दिया। शिमला की लोअर बाजार सब्जी मंडी में रविवार को 100 रुपये में 200 ग्राम लहसुन बिक रहा था। सब्जी खरीदने आईं काजल ने बताया कि उन्होंने 50 रुपये का लहसुन खरीदा, जिसमें उन्हें दो ही गुच्छियां मिलीं। आज तक कभी लहसुन इतना मंहगा नहीं खरीदा।अभी बाजार में सिरमौर, दिल्ली, चंडीगढ़, पंजाब और हरियाणा से लहसुन आ रहा है। 

लहसुन विक्रेता मनसा राम का कहना है। मंडी में लहसुन की नई फसल आने के बाद ही दाम कम होने की संभावना है। लहसुन मंहगा होने की वजह से ज्नादातर लोग तो दाम पूछकर चले जाते हैं।लोअर बाज़ार सब्जी मंडी के प्रधान विश्वेश्वर नाथ ने कहा कि पिछले साल लहसुन की फसल कम होने की वजह से आवक कम है। ठंड में लहसुन की मांग अधिक होने से भी दाम बढ़ गए हैं। फरवरी के अंत तक नई फसल आने के बाद ही इसकी कीमतों में कमी आ सकती है।महंगाई के मोर्चे पर सरसों तेल, रिफाइंड और जीरे की घटी कीमतों ने कुछ राहत दी है। अनाज मंडी के कारोबारियों का कहना है कि सरसों तेल और जीरे के दाम पिछले करीब एक साल के न्यूनतम स्तर पर हैं। मिक्स गरम मसाला भी सस्ता हुआ है।

जीरे की नई फसल आने के बाद इसकी आपूर्ति बढ़ी है। इससे दामाें में गिरावट आई है। पिछले साल रिटेल में 800 रुपये प्रति किलो तक बिकने वाला जीरा अब 500 रुपये पहुंच गया है। एक महीने में ही इसके दाम 150 रुपये प्रति किलो तक घटे हैं। थोक में जीरा 400 से 450 रुपये प्रति किलो मिल रहा है। सरसों तेल भी रिटेल में 130 से 145 रुपये प्रति लीटर है। शहर की अनाज मंडी में पी मार्का ग्रेड वन सरसों तेल अब रिटेल में 145 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है। बीते महीने यह 160 रुपये प्रति लीटर था।


रिफाइंड के दाम भी 10 रुपये प्रति लीटर तक घटे हैं। कम वजन वाला रिफाइंड पैक 100 रुपये तक मिल रहा है। अनाज मंडी के कारोबारी एवं शिमला व्यापार मंडल अध्यक्ष संजीव ठाकुर का कहना है कि काफी समय बाद सरसों तेल, रिफाइंड के दाम घटे हैं। हालांकि राजमा समेत अन्य दालों में पांच से दस रुपये प्रति किलो की तेजी आई है। अनाज मंडी आढ़ती एसोसिएशन के अध्यक्ष दीपक श्रीधर का कहना है कि जीरे के दाम एक साल में सबसे कम हो गए हैं।

Post a Comment

0 Comments

फिर शातिरों ने चली चाल एक युवक से तीन लाख की धोखाधड़ी