Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

हिमाचल प्रदेश के स्कूलों में लाइब्रेरियन हुए रामभरोसे

                                                   कॉलेज कैडर में लाइब्रेरियों पर लटके ताले 

ज्वाली,रिपोर्ट राजेश कतनौरिया 

हिमाचल प्रदेश के स्कूलों में लाइब्रेरियन रामभरोसे हो गई हैं। लाइब्रेरियनों के न होने के कारण लाइब्रेरियों पर ताले लटक गए हैं तथा लाइब्रेरियों में पड़ी लाखों की बुक्स को धूल चाट रही है। जो लाइब्रेरियां चल रही थीं उसके स्टाफ को कॉलेज कैडर में ट्रांसफर कर दिया गया है। खाली हुए पदों को कब भरा जाएगा, इसकी प्रक्रिया फाइलों में ही चल रही है। अब राज्य सरकार ने सहायक लाइब्रेरियनों के पदों पर जेओए नए पदनाम के साथ लाइब्रेरियनों के पदों को भरने की अधिसूचना तो जारी कर दी थी लेकिन कब भरे जाएंगे, इसकी कोई जानकारी नहीं है।

प्रदेश सरकार ने 771 पदों को भरने की अधिसूचना की लेकिन अभी तक इसकी प्रक्रिया शुरू नहीं हो पाई है। लाइब्रेरियनों के अभाव में बच्चों को लाइब्रेरियों का कोई लाभ नहीं मिल पा रहा है। सरकार लगातार लाइब्रेरियनों के डिप्लोमा तो करवा रही है लेकिन इनके पदों को न भरकर इनके साथ अन्याय कर रही है। बेरोजगार प्रशिक्षित लाइब्रेरियनों की संख्या हजारों में पहुंच गई है लेकिन इनको रोजगार नहीं मिल पा रहा है। 

लाइब्रेरियनों को रोजगार के नाम पर ठग रही प्रदेश सरकार - किशोरी लाल।हिमाचल प्रदेश बेरोजगार प्रशिक्षित बेरोजगार लाइब्रेरियन संघ के प्रदेश महासचिव किशोरी लाल ने कहा कि प्रदेशभर के स्कूलों में लाइब्रेरियनों के काफी पद रिक्त हैं। पूर्व की भाजपा सरकार ने 771 पदों को भरने की अधिसूचना जारी की थी लेकिन प्रक्रिया शुरू नहीं हुई। अब कांग्रेस ने भी 771 पदों को भरने की अधिसूचना जारी की है लेकिन इनको भरने की प्रक्रिया शुरू नहीं हो पाई है। उन्होंने कहा कि हमें ठगा जा रहा है। उन्होंने कहा कि आचार संहिता से पहले अगर प्रक्रिया शुरू नहीं हुई तो लोस चुनाव में कांग्रेस का बहिष्कार किया जाएगा। 



Post a Comment

0 Comments

फिर शातिरों ने चली चाल एक युवक से तीन लाख की धोखाधड़ी