Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

कांग्रेस के बागी विधायकों के लिए व्हिप जारी: नीति विरोधी अभियुक्तियों पर निष्कासन की आशंका

                कांग्रेस के बागी विधायकों को व्हिप जारी, पार्टी की नीति के खिलाफ जाने पर होंगे निष्कासित

शिमला, ब्यूरो रिपोर्ट 

पार्टी के मुख्य सचेतक हर्षवर्धन चौहान ने व्हिप पोस्ट किया है। व्हिप के अनुसार, बजट बहुमत से पारित करने के लिए बागी सदस्यों को अपने व्यक्तिगत विचारों या दबाव से मतदान करना चाहिए, न कि कांग्रेस पार्टी की ओर से। हिमाचल प्रदेश की सुखविंद्र सिंह सुक्खू सरकार को राज्यसभा चुनाव में झटका लगा है। 


भाजपा के हर्ष महाजन राज्यसभा में कांग्रेस विधायकों की क्रॉस वोटिंग से चुने गए हैं। राज्यसभा चुनावों के परिणामों के बाद बजट पारित करते वक्त सुक्खू सरकार को खतरा हो सकता है। कांग्रेस सरकार ने इससे बचने के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। कांग्रेस ने छह बागी विधायकों को व्हिप भेजा है। 


व्हिप के अनुसार, बजट बहुमत से पारित होने के लिए बागी सदस्यों को अपने व्यक्तिगत विचारों या दबाव के बजाय कांग्रेस पार्टी की ओर से मतदान करना चाहिए। पार्टी की नीति के खिलाफ मतदान करने पर उन्हें प्रभावी रूप से निष्कासित किया जा सकता है। पार्टी के मुख्य सचेतक हर्षवर्धन चौहान ने व्हिप पोस्ट किया है।  बजट बहुमत से पारित नहीं होता तो सुक्खू सरकार की स्थिति खराब हो सकती है। राज्य बजट सत्र जारी है। 


वीरवार को विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2024-25 का बजट पारित होना है। बजट पारित करते समय विपक्ष सदन में डिविजन की मांग कर सकता है। यदि इस तरह के मतदान में भी सरकार के पक्ष में वोट नहीं पड़े तो हालात बदतर हो सकते हैं। सरकार संकट में पड़ सकती है अगर वित्त विधेयक गिर जाता है। मुख्यमंत्री ने हालांकि ऐसी संभावना से इनकार कर दिया है। बजट पारित करने के लिए सदन के नेता को बहुमत साबित करना होगा। 


कांग्रेस और भाजपा ने राज्यसभा में 34 से 34 विधायकों का समर्थन जुटाकर टाई किया है। बजट पारित करना मुश्किल होगा अगर यही समर्थन जारी रहेगा। विधानसभा अध्यक्ष भी राज्यसभा के लिए वोट देता है, लेकिन बजट पारित करते समय दोनों पक्ष टाई होने की स्थिति में यह वोट डाला जा सकता है। 

भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में छह कांग्रेस विधायकों और तीन निर्दलीय विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की है। पंचकूला में विधायक पुलिस की सुरक्षा में हैं। 14 जनवरी को, मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए 58 हजार 444 करोड़ रुपये का बजट प्रस्तुत किया है। 

इसमें राज्य की अर्थव्यवस्था की अनुमानित 7.1% की वृद्धि और प्रति व्यक्ति 2 लाख 34 हजार, 199 रुपये की अनुमानित आय दिखाई दी गई। वहीं, राज्य का सकल घरेलू उत्पाद अनुमानित 2 लाख 7 हजार 430 करोड़ रुपये होगा। हिमाचल प्रदेश में 68 विधायकों में से 34 ने कांग्रेस और 34 ने भाजपा को वोट दिया। 5:00 बजे शुरू हुई मतगणना में 34-34 वोट मिलने के बाद नतीजा देर शाम तक अटका रहा। 

भाजपा के प्रत्याशी हर्ष महाजन को लगभग 7:45 बजे विजयी घोषित किया गया। कांग्रेस के प्रत्याशी और केंद्रीय नेता अभिषेक मनु सिंघवी इस चुनाव में पराजित हो गए। ध्यान दें कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा का राज्यसभा सांसद पद समाप्त होने के बाद हिमाचल प्रदेश की राज्यसभा सीट खाली हो गई थी।

Post a Comment

0 Comments

लकड़ीनुमा स्लेटपोश में दस कमरों का घर जलकर राख