Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

टेस्ट मैच सिर पर और सड़कों पर मलबे के ढेर,दर्शकों को करना पड़ेगा परेशानियों का सामना

                                                      टेस्ट मैच सिर पर और सड़कों पर मलबे के ढेर

धर्मशाला,रिपोर्ट मोनिका शर्मा 

 एचपीसीए स्टेडियम धर्मशाला में 7 मार्च से खेले जाने वाले भारत-इंग्लैंड टेस्ट मैच के दौरान दर्शकों को परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत केसीसी चौक से स्टेडियम तक बनने वाले कॉरिडोर के निर्माण कार्य के चलते सड़क को एक तरफ से खोदा गया है। वहीं, इससे निकलने वाला मलबा सड़क की दूसरी तरफ फेंका जा रहा है। इस वजह से वाहन चालकों और राहगीरों की परेशानियां बढ़ गई हैं। 

ठेकेदार ने जगह-जगह पर जेसीबी से खुदाई कर नालियों को खुला छोड़ दिया है।वहीं, कार्य धीमी गति से चल रहे कार्य के कारण टेस्ट मैच के दौरान दर्शकों को कचहरी अड्डा से स्टेडियम तक खोदी गई गहरी नालियों से बचते स्टेडियम तक पहुंचना पड़ेगा। इस दौरान किसी प्रकार का हादसा ठेकेदार की लापरवाही के कारण हो सकता है। जानकारी के अनुसार धर्मशाला टेस्ट के दौरान दर्शकों की भीड़ रहेगी। ऐसे में यह खुली छोड़ी गईं नालियां लोगों के लिए परेशानियों का सबब बनेंगी।

इसके अलावा धर्मशाला में बनाए जा रहे पहले स्मार्ट रोड के निर्माण कार्यों के कारण भी वाहन चालकों और राहगीरों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। नगर निगम कार्यालय के पास सड़क के एक तरफ रेत और बजरी के बड़े-बड़े ढेर लगाए गए हैं, जिस वजह से वहां वाहनों के पहिए स्किड हो रहे हैं और हादसों का खतरा भी बढ़ गया है, लेकिन इस और न तो नगर निगम और स्मार्ट सिटी का ध्यान जा रहा है और न ही पुलिस इस पर कोई कार्रवाई कर रही है। अगर लापरवाही के कारण कोई हादसा होता है तो इसका जिम्मेवार कोन होगा।

शिक्षा बोर्ड कार्यालय से लेकर कोतवाली बस अड्डा तक स्मार्ट रोड का निर्माण किया जा रहा है, लेकिन लंबे समय बाद भी आज दिन तक कार्य पूरा नहीं हो पाया है। कई स्थानों पर नालियों को खुला छोड़ा गया है। वहां पर सरिया भी निकला पड़ा है, जो किसी बड़े हादसे को न्योता दे रहे हैं। मगर अधिकारी आंखें बंद कर कार्रवाई के लिए किसी हादसे का इंतजार कर रहे हैं।स्मार्ट रोड का निर्माण करने वाले और कॉरिडोर बनाने वाले ठेकेदारों को निर्देश दिए हैं कि काम में गुणवत्ता बरकरार रहनी चाहिए और काम में तेजी लाई जाए। टेस्ट मैच से पहले कॉरिडोर का कार्य पूरा तो नहीं हो पाएगा, लेकिन कोशिश रहेगी कि अधिकतर काम को पूरा किया जाए, जिससे की दर्शकों और अन्य लोगों को परेशानी न हो।


Post a Comment

0 Comments

सतलुज दरिया के तेज बहाव में एक बच्ची हुई दुर्घटना की शिकार