Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

मंत्री विक्रमादित्य ने जेसीबी की 14 मशीनों का उद्घाटन किया

                                            14 मशीनों को हरी झंडी दिखाई, तारादेवी मे कहा कि आपदा से निपटने में मदद मिलेगी

शिमला , ब्यूरो रिपोर्ट 

शनिवार को, लोक निर्माण एवं शहरी विकास मंत्री विक्रमादित्य सिंह ने तारादेवी में 23 करोड़ रुपये की लागत से खरीदी गई 102 नई मशीनों में से 14 जेसीबी को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। 


शिमला जोन के ठियोग उपमंडल को 3 मशीनें, चौपाल को 2 मशीनें, धामी को 3 मशीनें, रोहड़ू को 2 मशीनें, शिमला डिवीजन नंबर 1 को 1 मशीनें, जुब्बल, कोटखाई और एनएच ठियोग के लिए 1 मशीनें दी गई हैं।  मंत्री ने इस दौरान जेसीबी को चलाकर देखा। विक्रमादित्य सिंह ने बताया कि इन मशीनों को जेम पोर्टल से खरीदा गया था। इससे लगभग दस करोड़ रुपये बच गए हैं। 


लोक निर्माण विभाग के लिए खरीदी गई 102 मशीनें राज्य के मंडलों में भेज दी जाएंगी।  ताकि आपदाओं और अन्य घटनाओं से निपटने में परेशानी न हो, शिमला जिले के उपमंडलों में चौबीस मशीन भेजी गई हैं। ईएनसी अजय गुप्ता, अधीक्षण अभियंता (मेकेनिकल) सीडी ठाकुर, अधिशाषी अभियंता (मेकेनिकल) अमित शर्मा, आरके चांदला, राजेश अग्रवाल और रोहित सूद इस अवसर पर उपस्थित थे। 


जेम पोर्टल क्या है? जेम (गवर्नमेंट ई मार्केट) एक पोर्टल है जो भारत में सरकारी विभागों, संस्थाओं और सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों से आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं को ऑनलाइन खरीदने की अनुमति देता है। 19 अगस्त 2016 को वाणिज्य मंत्रालय ने इस पोर्टल को शुरू किया, जिसका उद्देश्य सरकारी खरीदों में पारदर्शिता, दक्षता और तेजी को बढ़ाना था। पोर्टल दो तरह से काम करता है: एक खुला ऑनलाइन मार्केट प्लेस और विभिन्न संस्थाओं और विभागों के लिए सामान खरीदने और बेचने का स्थान।


Post a Comment

0 Comments

फिर शातिरों ने चली चाल एक युवक से तीन लाख की धोखाधड़ी