Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

खेल महाकुंभ के उद्घाटन में शामिल हुए रोहित शर्मा और राहुल द्रविड़

                                टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा और कोच राहुल द्रविड़ ने सांसद खेल महाकुंभ का शुभारंभ करने बिलासपुर पहुंचे।

बिलासपुर , ब्यूरो रिपोर्ट 

भारत-इंग्लैड सीरीज के अंतिम टेस्ट मैच (7 मार्च से 11 मार्च) के लिए दोनों टीमों के खिलाड़ी धर्मशाला पहुंच चुके हैं। मंगलवार को बिलासपुर पहुंचे भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रोहित शर्मा और कोच राहुल द्रविड़। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर भी इस दौरान उपस्थित थे। दर्शकों ने इस दौरान रोहित शर्मा की फोटो लेने और उनके साथ सेल्फी लेने की होड़ लगाई। दोनों लुहणू क्रिकेट मैदान में सांसद खेल महाकुंभ 3.0 का उद्घाटन करने आए हैं। 


खेल महाकुंभ में हिमाचल पुलिस बैंड हार्मनी ऑफ द पाइंस, नाटी किंग कुलदीप शर्मा, पंजाबी गायक लखविंदर सिंह वडाली और अपार शक्ति खुराना धूम मचाएंगे। साथ ही, 7 मार्च से 11 मार्च तक भारत-इंग्लैड सीरीज के अंतिम टेस्ट मैच से पहले डॉग स्क्वायड स्टेडियम को खंगालेगा। मैच में दर्शकों की भीड़ होने की उम्मीद है। ऐसे में धर्मशाला-कांगड़ा सड़क को वन-वे बनाया जाएगा अगर आवश्यक होगा, अन्यथा गाड़ी आम तौर पर चलेगी। पुलिस अधीक्षक कांगड़ा शालिनी अग्निहोत्री ने यह घोषणा की। 


शालिनी ने बताया कि अभी तक उनके पास जो जानकारी है, उस हिसाब से 8 से 10 हजार लोग स्टेडियम में आने की संभावना है। साथ ही, दूसरे राज्यों ने पांच दिन तक चलने वाले टेस्ट मैच के लिए परिवहन योजनाओं को समझाया है। उनका कहना था कि टेस्ट मैच से पहले डॉग स्क्वायड और पुलिस बल स्टेडियम जाएंगे।  स्टेडियम के हर गेट पर पुलिस अधिकारियों की अगुवाई में जवान तैनात रहेंगे। मैच की सुरक्षा और यातायात के लिए लगभग 600 पुलिसकर्मी और गुप्तचर विभाग के कर्मचारी तैनात रहेंगे। ड्रोन से स्टेडियम और टीमों के आने-जाने की निगरानी की जाएगी।  उनका कहना था कि मैच के दौरान स्टेडियम को सुरक्षा के कारण इनर और आउटर में विभाजित किया जाएगा। शहर को यातायात व्यवस्था के अनुसार सात सेक्टरों में विभाजित किया जाएगा। 


एसपी ने कहा कि अगर मैच के दौरान धर्मशाला में भीड़ अधिक होती है तो धर्मशाला-कांगड़ा सड़क को वन-वे बनाया जा सकता है।  इस दौरान धर्मशाला से कांगड़ा की ओर जाने वाले वाहन सकोह से होकर जाएंगे। कांगड़ा से धर्मशाला आने वाले वाहनों को वाया शीला से पहुंचाया जाएगा। शहीद स्मारक-सर्किट हाउस सड़क को भी वन-वे घोषित किया जा सकता है। इस बार स्प्रिंग कार्निवाल के दौरान मेला मैदान दाड़ी में वाहनों को पार्क नहीं किया जाएगा। पार्किंग करने के लिए सबसे पहले पुलिस की जगह दी जाएगी। साई मैदान और चरान खड्ड के पास बन रहे फुटबाल स्टेडियम में वाहनों को खड़ा करने की व्यवस्था होगी अगर पुलिस मैदान भर जाएगा। चीलगाड़ी रोड पर भी वाहनों को खड़ा करने के लिए स्टैंडबाई रखा जाएगा अगर आवश्यकता होगी। 


Post a Comment

0 Comments

सतलुज दरिया के तेज बहाव में एक बच्ची हुई दुर्घटना की शिकार