Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

प्रदेश में हुई बारिश-बर्फबारी से बढ़ीं परेशानिया

                                        शिमला सहित सात क्षेत्रों का न्यूनतम तापमान माइनस में

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

हिमाचल प्रदेश में बारिश-बर्फबारी से दुश्वारियां बढ़ गई हैं। शिमला सहित सात क्षेत्रों का न्यूनतम तापमान माइनस में दर्ज किया गया है। सोमवार सुबह 10:00 बजे तक राज्य में चार नेशनल हाईवे सहित  654 सड़कें यातायात के लिए बाधित थीं। लाहौल-स्पीति जिले में सबसे अधिक 290 और शिमला में 166 सड़कें बाधित हैं। वहीं, राज्य में 1,655 बिजली ट्रांसफार्मर ठप हैं। 145 पेयजल योजनाएं भी प्रभावित चल रही हैं।

कुल्लू, चंबा, लाहौल, किन्नौर, शिमला, सिरमौर, मंडी के बर्फबारी वाले इलाकों में विद्यार्थियों के लिए बोर्ड परीक्षाएं देना चुनौती बन गया है। मौसम विज्ञान केंद्र ने 4 व 5 मार्च को उच्च पर्वतीय कुछ स्थानों पर मौसम खराब रहने का पूर्वानुमान जताया है। 6 और 7 मार्च को राज्य के कई स्थानों पर फिर बारिश-बर्फबारी की संभावना है। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से मौसम में यह बदलाव आने की संभावना है। 8 से 9 मार्च तक मौसम साफ रहने के आसार हैं। आज राजधानी शिमला व अन्य भागों में हल्की धूप खिलने के साथ बादल छाए हुए हैं। 

चंबा-खज्जियार मार्ग पर गजनुई के पास भूस्खलन के चलते यातायात के लिए बाधित हो गया। पहाड़ी दरकने से सड़क पर टनों के हिसाब से गिरे मलबे और चट्टानों के चलते पैदल भी राहगीर आवाजाही नहीं कर पा रहे हैं। इससे क्षेत्र की दर्जनभर पंचायतों का संपर्क जिला मुख्यालय से पूरी तरह से कट गया है। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची विभागीय टीमें मार्ग को बहाल करने के काम में जुट गया गई हैं। वहीं, किन्नौर जिले के निगुलसरी में भूस्खलन से बंद मार्ग को बहाल करने समय पहाड़ी से पत्थर गिरने एलएंडटी ऑपरेटर की मौत हो गई है। मृतक की पहचान मदन( 27)पुत्र कृष्ण लाल निवासी कुल्लू के रूप में हुई है। 




Post a Comment

0 Comments

लकड़ीनुमा स्लेटपोश में दस कमरों का घर जलकर राख