Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

निर्दलीयों पर भी लगे दलबदल कानूून

  जगत सिंह नेगी ने विधानसभा अध्यक्ष के पास दायर की याचिका, हाई कोर्ट में भी सुनवाई 30 तक टली

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

तीनों निर्दलीय विधायकों के मामले में एक और नया घटनाक्रम सामने आया है। तीनों को निष्कासित करने की मांग को लेकर राजस्व व बागबानी मंत्री जगत सिंह नेगी ने विधानसभा सचिवालय में याचिका दायर की है। जगत सिंह ने विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया के समक्ष याचिका दायर करते हुए निर्दलीयों के खिलाफ दलबदल विरोधी कानून के तहत कार्रवाई करने की मांग की है। 

गुरुवार को यहां एक प्रेसवार्ता में राजस्व एवं बागबानी मंत्री ने कहा कि इस्तीफा स्वीकार होने से पहले निर्दलीय किसी राजनीतिक दल में शामिल नहीं हो सकते थे। तीनों पर भाजपा का भारी दबाव है। इसी दबाव के चलते उन्होंने त्यागपत्र दिए हैं। उनके त्यागपत्र अभी भी अध्यक्ष के पास लंबित हैं। इस बीच, प्रदेश हाई कोर्ट में निर्दलीय विधायकों के इस्तीफों को लेकर दायर याचिका पर सुनवाई 30 अप्रैल के लिए टल गई। तीन निर्दलीय विधायकों ने इस्तीफे मंजूर न करने और उन्हें स्पीकर द्वारा कारण बताओ नोटिस जारी करने के खिलाफ याचिका दायर की है। मुख्य न्यायाधीश एमएस रामचंद्र राव और न्यायाधीश ज्योत्सना रिवाल दुआ की खंडपीठ के समक्ष इस मामले पर सुनवाई हुई।

इस मामले में प्रार्थियों की ओर से बहस पूरी होने के बाद कुछ समय के लिए स्पीकर की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने मामले पर वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई की। उन्होंने मामले पर अपनी ओर से अगली बहस के लिए सुनवाई 30 अप्रैल दोपहर बाद सवा चार बजे निर्धारित करने का आग्रह किया, जिसे हाई कोर्ट ने स्वीकारते हुए सुनवाई 30 अप्रैल के लिए रखी गई। निर्दलीय विधायकों की ओर से कोर्ट को बताया गया। 




Post a Comment

0 Comments

आशीष बुटेल के राजनीतिक प्रहार पर प्रवीन कुमार का पलट वार जव प्रदेश में आपदा आई थी तो किशन कपूर एम्स में उपचाराधीन थे