Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

आरोपी के घर से मिली लकड़ी का मिलान जंगल में मिलने वाले पेड़ों के ठूंठ से किया जाएगा

                    आरोपी के घर से मिली लकड़ी का मिलान जंगल में पाए गए पेड़ों के ठूंठ से होगा

चम्बा, ब्यूरो रिपोर्ट 

देवदार के पेड़ों के अवैध कटान के मामले में वन विभाग की टीम ने जंगल में छापा मारा है। यह टीम जंगल में आरोपी के घर से बरामद की गई लकड़ी को ठूंठ से जोड़ेगी। यदि लकड़ी और पेड़ों के ठूंठ का मिलान मिलता है, तो आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी। 


वन विभाग की एक टीम ने दो दिन पहले एक व्यक्ति के घर पर छापा मारकर देवदार की लकड़ी बरामद की थी।  आरोपी दरवाजे और खिड़कियां बनाकर बेचता था। रात के अंधेरे में यह कार्य किया जाता था। संबंधित वन बीट के वन रक्षक ने शक होने पर आरोपी के घर में रेकी की। आरोपी देर रात दो बजे आरा मशीन चलाकर लकड़ी की कड़ियां निकाल रहा था। वन रक्षक ने वन खंड अधिकारी को इसकी जानकारी दी। 


अगले दिन पुलिस टीम ने आरोपी के घर पर छापा मारा। इस दौरान, आरोपी के सभी कमरों से देवदार की लकड़ी से बने दरवाजे-खिड़कियां और अन्य फर्नीचर बरामद किए गए। इस लकड़ी का मूल्य लाखों में बताया जाता है। आरोपी पहले बहस करने लगे, लेकिन जब पुलिस ने कमरे की तलाशी ली तो भारी मात्रा में लकड़ी मिली। आरोपी जंगल को अवैध रूप से काटने का विचार नहीं करता। 


यही कारण है कि विभाग ने घातक जंगल में सभी पेड़ों की जांच शुरू कर दी है। इसमें आरोपी के घर पर मिली लकड़ी और उसके ठूंठ की लकड़ी का मिलान किया जाएगा। यदि दोनों मिलते हैं, तो आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी। वन खंड अधिकारी की अगुवाई में लेख राज, सादा खान और वन रक्षक नेक सिंह की टीम मामले की जांच कर रही है।


 टीम ने शनिवार से जांच शुरू कर दी है। जंगल में हर पेड़ की जांच करने में दो से तीन दिन लग सकते हैं। वन मंडल अधिकारी सुशील कुमार ने बताया कि टीम धतरूंड जंगल में अवैध कटान की जांच करने के लिए मुस्तैदी से काम कर रही है। जांच पूरी होने के बाद अगले कदम उठाया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments

लकड़ीनुमा स्लेटपोश में दस कमरों का घर जलकर राख