Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

एक ट्रक के खराब होने से करीब चार से पांच घंटे तक सैकड़ों वाहन फंसे

                                              बारालाचा में ट्रक खराब, चार घंटे फंसे रहे 200 वाहन

कुल्लू,ब्यूरो रिपोर्ट 

 मनाली-लेह मार्ग के खुलने से बड़ी संख्या में ट्रक और दूसरे वाहन दारचा पहुंच रहे हैं। रविवार को पहले ही दिन बारालाचा दर्रा में लेह जा रहे एक ट्रक के खराब होने से करीब चार से पांच घंटे तक सैकड़ों वाहन फंसे रहे। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कई घंटों की मशक्कत के बाद सभी वाहनों को लेह की तरफ रवाना किया।जानकारी के अनुसार रविवार दिन के समय सीमा सड़क संगठन ने ट्रक खराब होने से अवरुद्ध हुए मार्ग की सूचना पुलिस चेक पोस्ट दारचा में दी। 

सूचना मिलते ही दारचा चेक पोस्ट इंचार्ज छोटे लाल अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। सीमा सड़क संगठन की मशीन ने खराब ट्रक को किनारे किया। इसके बाद सभी वाहनों को सुरक्षित निकाला गया। रविवार को पहले दिन दारचा से 471 वाहनों में 905 लोग लेह के लिए भेजे गए।बारालाचा दर्रा के पास ट्रक के खराब होने से जिंगजिंगबार से तकरीबन तीन किमी आगे तक 200 से अधिक वाहनों की लंबी लाइन लगी रही। मनाली-लेह मार्ग पर ट्रक खराब होने से लगे जाम से सबकी मुश्किलें बढ़ गई थीं। यहां पर सड़क के दोनों छोर पर बर्फ के ढेर लगे हुए हैं। पुलिस चेक पोस्ट दारचा में तैनात जवानों को शिंकुला और बारालाचा सहित सरचू की ओर कड़ी निगरानी रखनी पड़ रही है।

 जिला आपदा प्रबंधन ने सड़क की दशा को देखते हुए यह सड़क फिलहाल वनवे खोली है।सोमवार को सरचू छोर से वाहनों को छोड़ा गया है। तय समय के अनुसार और वनवे के चलते सोमवार को लेह की तरफ से हिमाचल सीमा सरचू से लाहौल और मनाली की ओर 21 वाहनों में 37 लोग आए। एसपी लाहौल-स्पीति मयंक चौधरी ने बताया कि रविवार को पहले दिन दारचा से लेह के लिए 429 बड़े और 42 छोटे वाहनों को भेजा गया था। इस बीच बारालाचा दर्रा के पास एक ट्रक खराब हो जाने से 200 से अधिक वाहन फंस गए थे। सूचना मिलते ही दारचा चेक पोस्ट के प्रभारी छोटे लाल और उनकी टीम तुरंत मौके के लिए रवाना किया और वहां फंसे सभी वाहनों को सुरक्षित वहां से निकाला गया। 





Post a Comment

0 Comments

आखिर क्यों राशन डिपुओं से हुई चीनी गायब