Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

दो दिन बाद ग्रामीण क्षेत्रों में बसें चलने से विद्यार्थियों और कर्मचारियों को ली राहत की सांस

                                                       रूटों पर नियमित चलीं बसें, यात्रियों को राहत

कुल्लू,ब्यूरो रिपोर्ट 

जिले में दो दिन के बाद शुक्रवार को बस सेवाएं सुचारु रूप से मिलीं। इससे यात्रियों, स्कूल-कॉलेज के विद्यार्थियों ने राहत की सांस ली है। इससे पहले एचआरटीसी की बसें चुनाव ड्यूटी में लगी थीं जबकि निजी बसें भाजपा और कांग्रेस की रैली के लिए बुक थीं। इस कारण जिले में 150 से 200 रूट प्रभावित रहे। पोलिंग पार्टियां रवाना होने के बाद शुक्रवार को स्थिति सामान्य हुई है।

ग्रामीण और शहरी रूटों पर बसें समयसारिणी के अनुसार दौंड़ीं। स्कूली विद्यार्थियों और नौकरी पेशा एवं कामगारों को दिक्कतें कम हुईं। जिले में बीते बुधवार और वीरवार को बसों की कमी खली। निजी बसें भाजपा और कांग्रेस की जनसभाओं के लिए बुक थीं।परिवहन निगम की बसें पोलिंग पार्टियों को ले जाने, सुरक्षा कर्मियों और आवश्यक सामान पहुंचाने में लगी रहीं। इस कारण रूट प्रभावित हुए। इससे यात्रियों को परेशान होना पड़ा। शुक्रवार को सभी रूटों पर बसें समय सारिणी के अनुसार संचालित की गईं।निजी बस ऑपरेटर संघ के जिलाध्यक्ष रजत जंबाल ने कहा कि सभी रूटों पर बसों को समयसारिणी के अनुसार चलाया गया है। 

उधर, एचआरटीसी के मंडलीय प्रबंधक डीके नारंग ने कहा कि शुक्रवार को परिवहन निगम के ग्रामीण और शहरी रूटों पर बस सेवा जारी रही।लोकसभा चुनाव के लिए हिमाचल पथ परिवहन निगम की 150 से अधिक बसें बुक की गई हैं। इन बसों पर चुनाव ड्यूटी में तैनात पोलिंग पार्टियों और सुरक्षा कर्मियों को ले जाने और लाने का जिम्मा है। ऐसे में शनिवार को दोबारा परिवहन निगम के करीब 80 से 100 रूट प्रभावित रहेंगे। परिवहन निगम की 60 से अधिक बसें विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों से पोलिंग पार्टियों को लाने के लिए सुबह ही रवाना होंगी।




Post a Comment

0 Comments

पालमपुर की बेटी प्रणवी सूद ने किया जिले का नाम गर्व से ऊँचा