Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

जिला कुल्लू के भुंतर-मणिकर्ण सड़क पर लग रहे डंगे

                                           आपदा में सड़क को हुई थी क्षति, जल्द ही दुरुस्त होगा मार्ग

कुल्लू,ब्यूरो रिपोर्ट 

 मणिकर्ण घाटी की भुंतर-मणिकर्ण सड़क की मरम्मत का कार्य तेजी से किया जा रहा है। पार्वती नदी में पिछले साल आई बाढ़ के चलते सड़क कई जगहों पर क्षतिग्रस्त हुई थी। अब सड़क में वाहन दौड़ रहे हैं, लेकिन भूस्खलन के चलते कई जगहों पर सड़क की हालत नाजुक बनी हुई है। ऐसे में लोक निर्माण विभाग सड़क को बेहतर बनाने के लिए डंगे और क्रेटवॉल लगा रहा है।

छरोड़नाला, सांझा चूल्हा और अन्य जगहों पर डंगे और क्रेटवॉल लगने से सड़क पहले के मुकाबले बेहतर होगी। पिछले वर्ष पार्वती नदी में आई बाढ़ के चलते सड़क मणिकर्ण से लेकर छरोड़नाला तक जगह-जगह क्षतिग्रस्त हुई थी। कसोल के समीप सांझा चूल्हा के पास तो करीब 300 मीटर के दायरे में सड़क का नामोनिशान ही मिट गया था। इसके बाद लोक निर्माण विभाग को एक वैकल्पिक सड़क निकालनी पड़ी थी।अब पुरानी जगह से विभाग ने सड़क बनाई, जिस पर वाहन दौड़ रहे हैं। 

सड़क में पार्वती नदी किनारे क्रेटवाॅल और डंगे लगाए जा रहे हैं। केंद्र सरकार ने आपदा से क्षतिग्रस्त हुई भुंतर-मणिकर्ण सड़क के जीर्णोद्धार के लिए 38.86 करोड़ की राशि मंजूर की है। भुंतर-मणिकर्ण सड़क को लेकर लोक निर्माण विभाग मंत्री ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर सड़क का कार्य जल्द पूरा करने की बात कही है।लोक निर्माण विभाग मंत्री विक्रमादित्य सिंह का कहना है कि भुंतर-मणिकर्ण सड़क को आपदा के दौरान भारी नुकसान हुआ था। इस सड़क में विभाग की ओर से कार्य किया जा रहा है। कसोल और मणिकर्ण में बहुत पर्यटक आते हैं, इसलिए जल्द ही सड़क का कार्य पूरा कर किया जाएगा।




Post a Comment

0 Comments

 कई भागों में 21 जुलाई तक मानसून की बारिश जारी