Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

आखिर क्यों खिल उठे किसानो के चेहरे ?

                                              किसानों के चेहरे पर मुस्कान ले आए मटर और फ्रासबीन

चम्बा,ब्यूरो रिपोर्ट 

मटर, फ्रासबीन और फूलगोभी की फसल किसानों के चेहरों पर खुशियां ले आई है। सब्जियों के अच्छे दाम मिलने से सब्जी उत्पादकों के चेहरे खिल उठे हैं।हालांकि, बीते माह से बारिश न होने से फसल को नुकसान पहुंचा है, मगर फसलों के सही दाम मिलने से किसानों को कुछ राहत जरूर मिली है। 

इन दिनों सलूणी परिक्षेत्र के मटर 70 से 80, फ्रासबीन 60 से 70 और फूलगोभी 30 से 40 रुपये प्रतिकिलो की दर से बिक रही है।किसानों ने कहा कि बाहरी मंडियों में इन दिनों मटर और फ्रासबीन की अच्छी मांग होने से किसानों को इसके बेहतर दाम मिल रहे हैं। इस साल फूलगोभी की फसल में भी अधिक मुनाफा होता दिखाई दिया है। पिछले साल से अधिक ही दाम उन्हें बाहरी मंडियों में मिल रहे हैं। कहा कि फूलगोभी के उत्पादन पर काफी खर्चा आता है।किसानों में संजीव कुमार, अनिल कुमार, मनीष कुमार, विनोद कुमार, कैलाश चंद, भाग सिंह का कहना है कि मटर और फ्रासबीन के अच्छे दाम मिलने से किसानों को कुछ राहत मिली है।

 कहा कि क्विंटल के हिसाब से फसल की गाड़ियां क्षेत्र से पंजाब की मंडियों तक जा रही हैं। इनमें मटर, फूलगोभी, फ्रासबीन सहित अन्य सब्जियों की खेप छोटे वाहनों और बड़े ट्रकों के जरिये बाहरी मंडियों में भेजी जा रही हैं। हांलाकि, इस बार बारिश के न होने पर भी उन्हें फसल के अच्छे दाम मिल रहे हैं।उधर, कृषि विभाग के उपनिदेशक कुलदीप धीमान ने कहा कि सलूणी परिक्षेत्र में मटर, फ्रासबीन और फूलगोभी की फसल तैयार है। किसान फसल की बिक्री के लिए बाहरी मंडियों तक फसल पहुंचाने में जुटे हैं।




 



Post a Comment

0 Comments

फिर शातिरों ने चली चाल एक युवक से तीन लाख की धोखाधड़ी