Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

दुंदाह के बाद सेचू नाला में दिखा दुर्लभ कस्तूरी हिरण

                                                                बर्फानी तेंदुए पर हो रहा सर्वे

चम्बा,ब्यूरो रिपोर्ट 

चंबा के जंगल दुर्लभ प्रजाति के वन्य जीवों के लिए सुरक्षित स्थान बन रहे हैं। चंबा के तुंदाह वन्य प्राणी क्षेत्र के बाद अब पांगी के सेचू नाला वन्य प्राणी अभयारण्य क्षेत्र में दुर्लभ प्रजाति वाले कस्तूरी हिरण की तस्वीरें विभाग ने कैद की हैं। यह विभाग के लिए बड़ी उपलब्धि है।हाल ही में वन्य प्राणी विभाग ने तुंदाह वन्य प्राणी अभयारण्य क्षेत्र में वन्य जीवों का पता लगाने के लिए सर्वे करवाया था।

 इस सर्वे के दौरान जंगल में दुर्लभ कस्तूरी हिरण की तस्वीरें विभाग के अधिकारियों ने अपने कैमरों में कैद की थीं। अब यह सर्वे पांगी के जंगलों में चल रहा है। यहां विभाग की एक टीम जब सेचू नाला में सर्वे कर रही थी तो उसी दौरान उन्हें दुर्लभ कस्तूरी हिरण देखने को मिला। टीम ने उस हिरण की फोटो अपने कैमरे में कैद कर ली।पांगी में दुर्लभ कस्तूरी हिरण के अलावा बर्फानी तेंदुए को लेकर भी सर्वे करवाया जा रहा है। सर्वे की रिपोर्ट जल्द ही विभाग सार्वजनिक कर सकता है। इससे पहले कुगति में विभाग दुर्लभ काले भालू को भी ढूंढ चुका है।

दुर्लभ प्रजाति के वन्य जीवों के लिए चंबा के जंगल सुरक्षित स्थान बन रहे हैं। इसके प्रमाण हाल ही में वन्य प्राणी विभाग के सर्वे में देखने को मिले हैं। वन्य जीवों के दिखने के बाद विभाग उनके संरक्षण को लेकर अब अपनी रूपरेखा बनाने में जुट गया है.वन्य प्राणी विभाग के डीएफओ कुलदीप जम्वाल ने बताया कि पांगी के सेचू नाला में कस्तूरी हिरण देखा गया है, जो दुर्लभ प्रजाति से संबंध रखने वाली प्रजाति है। अभी तक पांगी के जंगलों में सर्वे जारी है। इसमें अन्य दुर्लभ वन्य जीव भी सामने आ सकते हैं।





Post a Comment

0 Comments

 कई भागों में 21 जुलाई तक मानसून की बारिश जारी