Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

पीटीए, पैट और पैरा टीचर नियमित करने का फैसला ऐतिहासिक: उमेश दत्त

पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों को भी मिलेगा लाभ:उमेश दत्त
शिमला हिमाचल फ़ास्ट ब्युरो
राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में पीटीए, पैट और पैरा टीचरों की सेवाओं को नियमित करने के निर्णय को हिमाचल प्रदेश के शिक्षक जगत के लिए ऐतिहासिक बताया है उमेश दत्त ने इस निर्णय के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को लोगों की भावना के अनुरूप किये गये इस फैसले का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि शिक्षक जगत इस निर्णय से उत्साहित है वह शिक्षा की गुणवत्ता में इससे एक महत्वपूर्ण परिवर्तन आएगा। उमेश दत्त ने कहा की इससे विभिन्न सरकारी विद्यालयों में कार्यरत लगभग 6500 पीटीए, 3300 पैट और 97 पैरा टीचर इस निर्णय से लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा कि कई वर्षों से चल रही नियमितीकरण की मांग को पूरा करते हुए मुख्यमंत्री ने संवेदनशीलता व शिक्षा के प्रति अपनी वचनबद्धता को सिद्ध किया है। प्रदेश प्रवक्ता ने पर्यटन उद्योग की मजबूती के लिए उठाया कारगर कदम की भी सराहना की है ज्ञात रहे की कोविड-19 महामारी के कारण प्रभावित हुए पर्यटन उद्योग के पुनर्जीवित करने के लिए कार्यशील पूंजी पर दिए जाने वाले ऋण पर ब्याज की छूट के लिए योजना प्रारूप को स्वीकृति प्रदान की गई। उन्होंने कहा कि योजना के तहत 31 मार्च, 2020 तक एक करोड़ रुपये का जीएसटी चुकाने वाली पर्यटन इकाइयां 50 लाख रुपये तक के अधिकतम ऋण के लिए पात्र होंगी। इस अवधि तक कम से कम एक वर्ष तक एक करोड़ रुपये से तीन करोड़ रुपये तक जीएसटी चुकाने वाली पर्यटन इकाइयां 75 लाख रुपये तक ऋण लेने और तीन करोड़ रुपये से अधिक जीएसटी देने वाली पर्यटन इकाइयां एक करोड़ रुपये तक ऋण लेने तक पात्र होंगी। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार छोटी पंजीकृत पर्यटन इकाइयां 15 लाख रुपये तक के ऋण के लिए पात्र होंगी। ऋण अवधि चार वर्षों के लिए होगी जिसमें पहले दो वर्षों तक ब्याज में हर वर्ष 50 प्रतिशत छूट होगी। उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल ने पर्यटन विभाग की तर्ज पर परिवहन विभाग में भी कार्यशील पूंजी के लिए ब्याज में छूट के लिए योजना लाने का भी निर्णय लिया जो कि लोगों के हित में लिये गया फैसला है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में लिए गए इस निर्णय से एक बार फिर पर्यटन उद्योग पटरी पर आएगा लाखों लोगों को रोजगार सुनिश्चित होगा वह भविष्य में रोजगार की और संभावनाएं बढ़ेंगी । उमेश दत्त ने कहा कि प्रदेश के विकास में पर्यटन एक महत्वपूर्ण योगदान देता आया है जिसका संरक्षण अति आवश्यक है मुख्यमंत्री उसी दिशा में अपनी भूमिका निभा रहे हैं जो अति सराहनीय है।


उमेश दत्त ने मंत्रिमंडल द्वारा शिक्षा विभाग में हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग, हमीरपुर के माध्यम से अनुबंध आधार पर जूनियर ऑफिस असिस्टेंट (आईटी) के 500 पदों को भरने को मंजूरी प्रदान करने का भी स्वागत किया है साथ ही हिमाचल प्रदेश राज्य मानवाधिकार आयोग में विभिन्न श्रेणियों के 42 पदों के सृजन तथा इन पदों को भरने की स्वीकृति प्रदान स्वागत किया है उमेश दत्त ने कहा कि संकट की इस घड़ी में भी नौकरियों का सृजन करना मुख्यमंत्री के नेतृत्व के कारण ही संभव हो पा रहा है।

प्रदेश प्रवक्ता ने जल शक्ति विभाग में जल रक्षक/पैरा फीटर और पैरा पम्प ऑॅपरेटरों के मानदेय में 300 रुपये प्रति माह की वृद्धि अब जल रक्षक को 3300 रुपये प्रति माह जबकि पैरा फीटर और पैरा पम्प ऑॅपरेटरों को 4300 रुपये प्रति माह का मानदेय मिलेगा इस निर्णय का भी स्वागत किया है वह कर्मचारी हित में बताया है। मंत्रिमंडल द्वारा ग्रामीण/शहरी क्षेत्रों में 3/2 बिस्वा भूमि की पात्रता के लिए आय मानदंड में संशोधन करने के लिए आवासहीन व्यक्तियों सी/परिवारों की मौजूदा 50,000 रुपए प्रतिवर्ष आय को बढ़ाकर एक लाख रुपए प्रतिवर्ष करने की मंजूरी देना अति सराहनीय कार्य है जिससे प्रदेश में अति गरीब नागरिकों को संबल मिलेगा।

Post a Comment

0 Comments

अन्नपूर्णा का सहयोग सम्मान समारोह 6 को