Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

आयुर्वेद विभाग में दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों में कर्मचारियों ने प्रदेश भाजपा सरकार के निर्णय से खुशी की लहर

 

कर्मचारी 19-20 वर्षों की नियमितीकरण की राह देख रहे थे


नयमितकरने के लिए हमारे पास रिक्त पद नहीं है और विभाग द्वारा 20-21 वर्ष की सेवा देने के उपरांत इन कर्मचारियों को ना तो अपने विभाग में नियमित किया गया



नूरपुर ( संजीव महाजन)

आयुर्वेद विभाग में दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों में कर्मचारियों ने प्रदेश भाजपा सरकार के निर्णय से खुशी की लहर है क्योंकि यह कर्मचारी 19-20 वर्षों की नियमितीकरण की राह देख रहे थे लेकिन आज तक नियमित नहीं हुए थे इस मंत्रिमंडल की बैठक में जो हिमाचल प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री जी ने जो निर्णय लिया है लिया है कि जिन विभागों में रिक्त पद खाली नहीं है उन्हें अन्य विभाग के रिक्त पदों पर नियमित किया जाएगा यह निर्णय गरीब कर्मचारियों के लिए सराहनीय कदम उठाया



क्योंकि आयुर्वेद विभाग में गरीब दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को बार-बार नियमित करने के लिए विभाग द्वारा एक ही जवाब मिलता था कि आप को नियमित करने के लिए हमारे पास रिक्त पद नहीं है और विभाग द्वारा 20-21 वर्ष की सेवा देने के उपरांत इन कर्मचारियों को ना तो अपने विभाग में नियमित किया गया और ना ही अन्य विभाग के रिक्त पदों पर नियमित नियमित किया गया नियमित किया और नियमितीकरण की आस में कई कर्मचारी दैनिक वेतन भोगी पद पर ही रिटायर हो गए और कई कर्मचारियों के नियमितीकरण की आस में मृत्यु हो गई आज भी हिमाचल प्रदेश में आयुर्वेद दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों की 21 वर्ष की सेवा देने के उपरांत मातर बहुत शेष कम नौकरी बची है हिमाचल प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष श्री तरसेम कुमार ने माननीय मुख्यमंत्री जी से विनम्र प्रार्थना की है कि जिन कर्मचारियों का 5 वर्ष का कार्यकाल 31 मार्च को पूरा हो चुका है और जिन विभागों में रिक्त पद खाली नहीं है इन आयुर्वेद दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को उन विभागों के रिक्त पदों पर नियमितीकरण के आदेश पारित करें क्योंकि 21 वर्ष की सेवा देने के उपरांत यह कर्मचारी आज तक नियमित नहीं हुए हैं और इन कर्मचारियों को प्रदेश भाजपा सरकार द्वारा न्याय मिल सके

Post a Comment

0 Comments

लकड़ीनुमा स्लेटपोश में दस कमरों का घर जलकर राख