Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

कृषि और बागवानी गतिविधियां आर्थिक स्वावलंबन का बनेगी आधार - विधानसभा उपाध्यक्ष

◆सफल कार्यान्वयन के लिए कार्य योजना तैयार 

◆जारी वित्त वर्ष के दौरान मनरेगा के अंतर्गत लगभग 26 करोड़ रुपए व्यय 

◆विकासात्मक कार्यों  का समयबद्ध निष्पादन बनाया जाए  सुनिश्चित 

चंबा (तीसा),रिपोर्ट
विधानसभा उपाध्यक्ष डॉ हंसराज की अध्यक्षता में ग्रामीण विकास विभाग के तहत विकास खंड तीसा के अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ विभिन्न विभागीय योजनाओं  को लेकर समीक्षा बैठक आयोजित की गई । बैठक में महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी अधिनियम के साथ अन्य विभागीय योजनाओं के तहत किए जा रहे विभिन्न विकासात्मक कार्यों की समीक्षा की गई । 
 खंड विकास कार्यालय तीसा द्वारा  ग्रामीण स्तर पर की जा  रही विभिन्न विकासात्मक गतिविधियों के और बेहतर कार्यान्वयन को सुनिश्चित बनाने के लिए डॉ हंसराज ने कार्यालय के  अधिकारियों और सभी कर्मचारियों को प्राथमिकता के साथ कार्य निष्पादन का आह्वान किया ।
उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्तर पर आधारभूत विकास के लिए  विभाग की मुख्य भूमिका है । चूंकि जिला चंबा आकांक्षी जिला की श्रेणी में भी शामिल है । ऐसे में यहां कार्यरत  सभी अधिकारियों और कर्मचारियों का यह मौलिक दायित्व बनता है कि वे समयबद्ध सीमा के भीतर  विकासात्मक कार्यों का निष्पादन सुनिश्चित बनाएं ।
डॉ हंसराज ने इस दौरान  पंचायत सचिव ,जीआरएस ,तकनीकी सहायक, और खंड विकास के कनिष्ठ अभियंताओं और सभी कार्यालय के अधिकारियों व कर्मचारियों के   योगदान की सराहना भी की ।
विधानसभा उपाध्यक्ष ने कहा कि एक ठोस कार्य नीति से विधानसभा क्षेत्र चुराह में स्वास्थ्य व सामाजिक सेवा क्षेत्र और संपर्क सड़कों के निर्माण को लेकर शुरू की गई सफल मुहिम के परिणाम आज सबके सामने हैं ।
उन्होंने कहा कि वर्तमान में चुराह विधानसभा क्षेत्र के अधिकतर गांवों को सड़क सुविधा से जोड़ दिया गया है और शेष बचे गांवो को भी सड़क प्रदान करने के लिए अधिकारियों को आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं ।
उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले समय में इस क्षेत्र में उपलब्ध संसाधनों के अनुरूप  कृषि और बागवानी आधारित गतिविधियों  से आर्थिक स्वावलंबन का नया दौर शुरू होगा । 
इसके सफल कार्यान्वयन के लिए एक कार्य योजना को तैयार किया गया है ।
कार्य योजना के प्रभावी कार्यान्वयन में कृषि विभाग व उद्यान विभाग और ग्रामीण विकास विभाग की भूमिका महत्वपूर्ण होगी ।
बैठक में विभिन्न विभागीय योजनाओं की समीक्षा के दौरान खंड विकास अधिकारी अश्विनी कुमार ने अवगत किया  कि विकासखंड तीसा के तहत जारी वित्त वर्ष के दौरान  मनरेगा के अंतर्गत अब तक लगभग 26 करोड़ रुपए विभिन्न योजनाओं पर  व्यय किए गए हैं । इसके  अतिरिक्त महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी अधिनियम के माध्यम से वित्त पोषित  790 कार्य प्रगति पर है। 
बैठक में पंचायत समिति अध्यक्ष कौशल्या देवी, जिला परिषद सदस्य जयंती दुग्गल, अंजू देवी, पंचायत निरीक्षक कुलदीप ठाकुर, एसईबीपीओ अजय और खंड विकास तीसा के कनिष्ठ अभियंता , पंचायत सचिव , रोजगार ग्राम सेवक, तकनीकी सहायक मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments

आदित्य राणा सपैडू व काजल कपूर पट्टी ( चन्दरोपा ) ने किया पालमपुर का नाम रोशन