Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

लोकतंत्र में पंचायतों का स्थान अहम : परमार

◆कांगड़ा की पंचायतों को 104 करोड़ जारी


पालमपुर, रिपोर्ट
विधान सभा अध्यक्ष, विपिन सिंह परमार ने कहा कि  15 वें वित्त आयोग से ज़िला कांगड़ा की पंचायतों को 104 करोड़ रुपये जारी किए गये हैं और इसमें सुलाह विधान सभा क्षेत्र की पंचायतों के विकास कार्यों के लिये भी लगभग 11 करोड़ जारी किये गये हैं। विधान सभा अध्यक्ष सोमवार को ग्राम पंचायत फरेड में 33 लाख से निर्मित होने वाले पंचायत भवन का शिलान्यास करने के उपरांत जनसभा को संबोधित करते हुए बोल रहे थे।  
 
विधान सभा अध्यक्ष ने कहा कि पंचायतों की लोकतंत्र में अहम स्थान तथा भूमिका है और पंचायतीराज प्रणाली को सुदृढ़ करने और सुविधायें उपलब्ध करवाने के लिये सरकार बचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि सुलाह हलके में नव निर्मित 14 पंचायतों के भवनों के निर्माण के लिये भी साढ़े 4 करोड़ से अधिक राशि जारी की गई है।  इसके अतिरिक्त सुलाह हलके में 20 पंचायतों में सामुदायिक सेवा केंद्रों के निर्माण के लिये एक करोड़ रुपये जारी किये गये हैं।

 फरेड पंचायत ने किये श्रेष्ठ कार्य

     
परमार ने कहा कि  फरेड पंचायत में विकास के मामले में अभूतपूर्व कार्य हुआ है इसके लिये  पंचायत प्रतिनिधि बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जब लोगों के रोजगार के साधनों पर संकट था। उस समय प्रदेश सरकार ने लोगों को राहत देने के मुख्यमंत्री एक  बीघा योजना आरम्भ की। जिसमें फरेड पंचायत जिला में प्रथम स्थान पर रही और 1 करोड़ 12 लाख रुपये  ऐसे लोगों को दिहाडी के रूप में उपलब्ध करवाए गए। 
    
उन्होंने कहा कि यह भी प्रसन्ता का विषय है कि जिला में सबसे अधिक  स्वंय सहायता समूहों के बानने  का गौरव भी फरेड पंचायत को ही है। उन्होंने कहा कि मनरेगा में 300 से अधिक कार्यों को पंचायत में चलाया जाना पंचायत प्रतिनिधियों की श्रेष्ठता को दर्शाता है। 

 पेयजल की उपलब्धता में आत्म निर्भर होगा सुलाह

    परमार ने कहा कि पेयजल के क्षेत्र में सुलाह हलके को आत्म निर्भर बनाने की दिशा में विशेष प्रयास जारी है। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन में सुलाह विधान सभा क्षेत्र में लगभग 100 करोड़ की विभिन्न योजनाओं पर कार्य प्रगति पर है।उन्होंने कहा कि इसमें नलकूपों का पानी ओवरहेड टैंकों के माध्यम से लोगों को उपलब्ध करवाया जायेगा और सभी पुरानी पाईपों को बदलने का कार्य भी जारी है। उन्होंने कहा कि सुलाह हलके की सभी कूहलों के  जीर्णोद्धार  का प्रयास जारी है  ताकि किसानों के खेतों तक पानी उपलब्ध हो सके।

 पेयजल योजना सुलाह, ठम्बा, ननाओं पर व्यय होंगे 567 लाख

   उन्होंने कहा कि पेयजल योजना सुलाह, ठम्बा, ननाओं के निर्माण पर जल जीवन मिशन में 567 लाख रुपये व्यय किये जा रहे हैं और इससे फरेड, भट्टू समूला, जस्सू, सुलाह, रैपुर को 6 नलकूपों से पेयजल उपलब्ध करवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि कटियाड गांव में  ट्यूबवेल और ओवरहेड टैंक बनाने पर 25 लाख व्यय हो रहा है। यह योजना एक माह में।लोगों को समर्पित कर दी जायेगी। उन्होंने कहा कि सीआरएस में सतलुज जल विद्युत परियोजना द्वारा सुलाह में तीन सामुदायिक भवन बनाये जा रहे हैं। जिसमे 12 लाख की लागत से एक फरेड मे भी बनाया जायेगा।

102 लाभार्थियों को वितरित किये 12 लाख 60 हजार

      परमार ने कहा कि हर जरूरतमंद की मदद का प्रयास ही उनका संकल्प है।  उन्होंने कहा कि  करोड़ों रुपये की सहायता जरूरतमंदों को मुख्यमंत्री राहत कोष और ऐच्छिक निधि से लोगों की बीमारी, बेटी की शादी, बच्चों की पढ़ाई के लिये उपलब्ध करवाकर लोगों के चेहरे पर मुस्कान लाने का प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि वे एक सेवक के रूप में सुलाह के लोगों के प्रतिनिधी हैं । उन्होंने इस अवसर पर 102 लाभार्थियों को मुख्यमंत्री मंत्री राहत कोष से  12 लाख 60 हजार रुपये की सहायता राशि के चेक  भी वितरित किये।

 मुख्यमंत्री 10 को करेंगे झज्जर पुल का लोकार्पण

   परमार ने कहा कि कुछ वर्ष पूर्व न्यूगल नदी में परौर बल्ला की एक बहन जो अपने खेतों में जा  रही थी। अचानक न्यूगल में पानी का बहाव बढ़ने से उसकी दुखद मृत्यु हो गयी थी। इस दुर्घटना से आहत उन्होंने उस समय संकल्प लिया था कि भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति ना हो इसके लिए न्यूगल में पुल का निर्माण करवाया जायेगा। उन्होंने कहा कि आज साढ़े 4 करोड़ से झज्जर में न्यूगल नदी पुल तैयार है और  मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर 10 जनवरी को इस पुल को लोगों को समर्पित करेंगे।
      उन्होंने स्थानीय स्कूल को स्तरोन्नत करने का आश्वासन दिया।
    कार्यक्रम में सुलाह मंडल अध्यक्ष देश राज शर्मा, प्रदेश भाजपा कार्यसमिति सदस्य  तनु भारती, ज़िला पार्षद रजनी देवी, बीडीसी अध्यक्ष अनिता चौधरी, बीडीसी सदस्य रक्षा देवी, स्थानीय ग्राम पंचायत प्रधान सोनू राधा, उपप्रधान मनोज शर्मा मोनू, सुषमा भट्ट, रागिनी रुकवाल, पूर्व प्रधान सुभाष चोपड़ा, नरेश कुमार, ओम प्रकाश, अरविंद संकड़िया, ज़िला पंचायत अधिकारी अश्वनी शर्मा, बीडीओ संकल्प गौतम, अधिशाषी अभियंता मनीष सहगल, एसडीओ दविंदर परमार, नायब तहसीलदार अब्दुल बशीर , सीडीपीओ अनिल कौल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी और क्षेत्र के गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments

आखिर क्यों राशन डिपुओं से हुई चीनी गायब