Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

स्वर्गीय कंवर हरिसिंह के 83वें जन्मदिवस को परिषद ने 'सेवा दिवस' के रूप में मनाया


पालमपुर ,प्रवीण शर्मा
हिमोत्कर्ष साहित्य संस्कृति एवं जनकल्याण परिषद के संस्थापक अध्य्क्ष स्वर्गीय कंवर हरिसिंह के 83वें जन्मदिवस को परिषद ने 'सेवा दिवस' के रूप में मनाया। हिमोत्कर्ष परिषद पालमपुर शाखा ने स्वर्गीय कंवर हरिसिंह की याद में मंगलवार को स्थानीय अस्पताल में अन्नपूर्णा वेलफेयर सोसाईटी पालमपुर द्वारा संचालित लंगर में योगदान किया तथा पदाधिकारियों द्वारा लंगर वितरण में भी सहयोग किया गया। इस अवसर पर हिमोत्कर्ष परिषद के प्रादेशिक संयुक्त सचिव व पालमपुर शाखा के अध्यक्ष मनोज कंवर ने परिषद संस्थापक स्वर्गीय कंवर हरि सिंह के जीवन को समर्पित कर लिखी गई पुस्तक अभिनंदन ग्रंथ की प्रतियां भी भेंट की।  
 
इस अवसर पर हिमोत्कर्ष परिषद केे पदाधिकारियों ने परिषद संस्थापक स्वर्गीय कंवर हरिसिंह के समाज सेवा के क्षेत्र में योगदान को याद करते हुए उन्हें श्रदासुमन अर्पित किए। अन्नपूर्णा वेलफेयर सोसाईटी के अध्यक्ष सुर्दशन वासुदेवा, रोटरी पूर्व अध्यक्ष विनय शर्मा तथा सिविल हस्पताल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ विनय महाजन ने स्वर्गीय कंवर हरिसिंह को श्रदासुमन अर्पित करते हुए उन्हें निष्काम समाज सेवी करार दिया। 
उन्होंने कहा कि कंवर हरिसिंह ने अपना समस्त जीवन समाज के पीडि़त व जरूरतमंद लोगों की मदद में लगा दिया। ऊना में लड़कियों के लिए गर्ल्स डिग्री कालेज,डंगोली में सीनीयर सकैंडरी स्कूल,मलाहत में बाल विद्या निकेतन की स्थापना,कुष्ठ रोगियों की मदद,ऊना में ब्लड बैंक की स्थापना,धुस्साड़ा में रोटरी आई अस्पताल,ईसपुर में आरवीसी आयुर्वेदिक अस्पताल व सामुदायिक भवन,ऊना में रोटरी चौंक,फिजियोथैरेपी सेंटर,लड़कियों के लिए हिमोत्कर्ष महिला प्रशिक्षण संस्थान व सैंकड़ो विद्यार्थियों को हर साल नगद छात्रवृतियां,ऊना व चंबा में फ्री रोगी वाहन सेवा,सैंकड़ो विधवाओं को हर माह फ्री राशन,दिव्यांगो को व्हील चेयर,ट्राईसाईकिल व कृत्रिम अंग प्रदान करने तथा फ्री मेडिकल हैल्थ चैकअप शिविरों के आयोजन इत्यादि कार्य को कभी भुलाया नही जा सकता है। हिमोत्कर्ष परिषद पालमपुर के सदस्य संजय सूद,सीमा चौधरी,अश्विनी राणा,डा.एसएस कंवर,पूर्व रोटरी गवर्नर सुनील नागपाल,कर्ण कुँवर,डा.प्रोमिला कंवर,एस एस नारंग,प्रोमिला नारंग,साहिल चित्रा,विजय कुमार व अन्य सदस्यों ने भी परिषद के संस्थापक स्वर्गीय कंवर हरिसिंह को याद कर उन्हें श्रदासुमन अर्पित किए। 

Post a Comment

0 Comments

फिर शातिरों ने चली चाल एक युवक से तीन लाख की धोखाधड़ी