Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

किराए के भवन में चल रहे पशु औषधालय केंद्र खाभल को जल्द मिलेगी अपनी छत

◆उपनिदेशक पशु पालन विभाग ने किया अधूरे भवन का निरीक्षण कर लिया जायजा

◆खंड विकास कार्यलय द्वारा तैयार प्रारूप मंजूर के लिए निदेशालय को भेजा

◆पंचायत समिति उपाध्यक्ष कृष्ण भोज ने समिति की बैठक में उठाया था मामला


पधर(मंडी)। रिपोर्ट
विकास खंड द्रंग की ग्राम पंचायत उरला के अंतर्गत खाभल में विगत 15 वर्षों से अधूरे पड़े वेटरनरी स्वास्थ्य केंद्र भवन कार्य के शीघ्र ही गति पकड़ने की उम्मीद जगी है। विकास खंड कार्यलय द्वारा लंबित कार्य का अनुमानित दो लाख रुपए का प्रारूप पशु पालन विभाग ने मंजूरी के लिए निदेशालय को भेज दिया है। उल्लेखनीय है कि पंचायत समिति द्रंग के उपाध्यक्ष कृष्ण भोज ने सालों से अधूरे पड़े कार्य का मामला बीते 23मार्च को आयोजित पंचायत समिति की बैठक में प्रमुखता से उठाया था। जिसका समिति द्वारा एकमत से प्रस्ताव पास कर जिला उपायुक्त मंडी को भेजा था। 
वहीं 28मार्च को जिला परिषद की बैठक में जिप सदस्य रविकांत ने भी यह मामला पटल पर जोरदार ढंग से रखा। जिस पर संज्ञान लेते हुए डिप्टी डायरेक्टर पशु पालन विभाग मंडी डॉ. नड्डा ने खाभल में अधूरे भवन का सयुंक्त निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि खंड विकास कार्यलय द्वारा भेजे गए प्रस्तावित बजट के प्रारूप को निदेशालय पशु पालन विभाग शिमला को प्रेषित कर दिया है। नए वित्त वर्ष में मंजूरी मिलने की संभावना है। मंजूरी मिलते ही बजट सबंधित पंचायत को जारी कर दिया जाएगा। 
ऐसे में विगत ढाई दशक से किराए के भवन पर चल रहे वेटरनरी स्वास्थ्य केंद्र को जल्दी अपनी छत नसीब होने की उम्मीद जगी है। 
उधर, पंचायत समिति उपाध्यक्ष कृष्ण भोज ने कहा कि जब तक अधूरे भवन का कार्य पूरा कर विभाग के अधीन नही होता। मामला प्रमुखता से उठाया जाता रहेगा। 
इस दौरान उप निदेशक डॉ. नड्डा ने पंचायत प्रधान ममता मित्तल से भी वार्ता कर शीघ्र बजट मंजूर होने का आश्वासन दिया। 
इस मौके पर जिला परिषद सदस्य रविकांत भी मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments

अब शिंकुला दर्रा होकर पदुम चलेगी निगम की बस