Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

उरला के करालडी में अराध्य देव पशाकोट मंदिर का निर्माण कार्य शुरू

◆चालीस से पचास लाख की लागत का काष्ठ शैली से तैयार होगा भव्य मंदिर

◆निर्माण कार्य मे लकड़ी का होगा प्रयोग, लोहा कंक्रीट का नही होगा इस्तेमाल

 मंडी। कृष्ण भोज

पधर उपमंडल की ग्राम पंचायत उरला के करालडी गांव में आराध्य देव श्री पशाकोट के नए मंदिर का निर्माण कार्य नवरात्र में शुरू हुआ। बालीचौकी के थाची क्षेत्र के आधा दर्जन कारीगर काष्ठ कुणी शैली से तैयार होने वाले मंदिर की नक्काशी कर नया मूर्तरूप देंगे। जिस पर अनुमानित चालीस से पचास लाख रुपए की राशि व्यय होगी। सीमेंट और लोहे का जरा भी प्रयोग नहीं होगा। काष्ठ कला की नक्कासी में देवदार की लकड़ी इस्तेमाल होगी।
बालीचौकी के थाची क्षेत्र से सबंध रखने वाले विख्यात कारीगर कुलदीप, राम लाल और माया राम ने नवरात्र में आराध्य देव पशाकोट की विधि विधान पूर्वक पूजा अर्चना करने बाद नारियल फोड़ इस कार्य का शुभारंभ किया। इस कार्य को पूरा करने में डेढ़ से दो साल का समय लगेगा। 
स्थानीय पंचायत और देव कमेटी ने मंदिर निर्माण का बीड़ा उठाया है। जिसके लिए इलाका गुम्मा ठाना की समस्त पंचायतों का सहयोग लिया जा रहा है।
कार्य को पूरा करने के लिए मंदिर निर्माण कमेटी सहित धन संग्रहण, इमारती लकड़ी संग्रहण और निगरानी समितियां गठित की गई हैं। क्षेत्र के दानी सज्जन भी इस कार्य को पूरा करने में हरसंभव सहयोग कर रहे हैं।  स्थानीय पंचायत द्वारा आराध्य देव पशाकोट मंदिर निर्माण कमेटी के नाम से बैंक में अकाउंट भी खोला गया है। जिसके खाता संख्या 5770000100044806 आईएसएफ कोड PUNB 0577000 पर दानी सज्जन ऑनलाइन सहयोग राशि भेज सकते हैं। वहीं धन संग्रहन  और इमारती लकड़ी संग्रहन समितियों ने भी इस कार्य को पूरा करने के लिए जोर शोर से कार्य शुरू किया है। कार्य को बखूबी तरीके से अंजाम देने के लिए स्थानीय पंचायत ने रविवार 10 अप्रैल को फिर देव पशाकोट की हार गुम्मा ठाना की ग्राम पंचायत चुक्कू, जिल्हण, कधार, गुम्मा और रोपा पधर के पंचायतों के जनप्रतिनिधियों की बैठक प्रातः 10 बजे बुलाई है। 
पंचायत प्रधान ममता मित्तल ने कहा कि कोई भी दानी सज्जन देवता के मंदिर निर्माण के लिए धन राशि और निर्माण सामग्री दान कर सकता है। सभी दानी सज्जनों का ब्यौरा पारदर्शिता के साथ रखा जाएगा। 

इस दौरान पंचायत समिति उपाध्यक्ष कृष्ण भोज, उप प्रधान हरीश कुमार, देव कमेटी प्रधान पूर्ण चंद, विजयेंद्र मुग़लाना, टेक सिंह, नरेंद्र कुमार, योगेश धरवाल, योगराज, नोख सिंह, किशन चंद, खुशहाल, फुला देवी सहित अन्य गणमान्य मौजूद रहे। 


Post a Comment

0 Comments

आखिर क्यों राशन डिपुओं से हुई चीनी गायब