Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

मेले और उत्सव हमारी संस्कृति के प्रतीक : आशीष बुटेल



पालमपुर,नवीन शर्मा 
तीन दिवसीय बैसाखी छिंज मेला डाढ़ के समापन समारोह की अध्यक्षता  मुख्य संसदीय सचिव शहरी विकास एवं शिक्षा आशीष बुटेल ने की।  उन्होंने उपस्थित लोगों को बैसाखी उत्सव की बधाई दी और इस अवसर पर आयोजित
दंगल के विजेता पहलवानों को पुरस्कृत किया।
     
इससे पहले डाढ पहुंचने पर सीपीएस का गर्मजोशी से स्वागत किया गया और मेला कमेटी ने मुख्य संसदीय सचिव को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। उन्होंने  मेला कमेटी और आयोजकों को मेले के सफल आयोजन के लिए बधाई दी।
    आशीष बुटेल ने कहा कि मेले मनोरंजन के साथ-साथ हमारी संस्कृति और परंपराओं को संजोय रखने में अहम भूमिका निभाते हैं। उन्होंने कहा कि मेले आपसी भाईचारे और प्रेम के प्रतीक हैं और पूरे प्रदेश में उत्सवों और त्योहारों के अवसर पर मेलों का आयोजन होता है। उन्होंने कहा कि मेलों में लोग बढ़चढ़ कर भाग लेते हैं और खरीददारी इत्यादि करते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार के सहयोग से मेलों और उत्सवों को महत्व को बढ़ाने का प्रयास कर अधिक मनोरंजक बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं।
      मुख्य संसदीय सचिव ने मेला ग्राउंड के सौंदर्यीकरण के लिए 3 लाख रुपएऔर  कमेटी को  मेले की आयोजन के लिये एक लाख रुपए  देने की घोषणा की।
     कार्यक्रम में ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष त्रिलोक चंद, कुलविंदर राणा, मेला कमेटी प्रधान नरेश कुमार, उप प्रधान मेला कमेटी धर्मपाल, पंचायत प्रधान प्रवीण कुमार, कश्मीर सिंह, पंचायत सदस्य रितेश कुमार, परश राम, पद्मनी, सुमना, रानी, निशा देवी, कुसुम सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी और बड़ी संख्या में क्षेत्र के गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments

फिर शातिरों ने चली चाल एक युवक से तीन लाख की धोखाधड़ी