Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

नहीं मिला प्रशिक्षित बेरोजगार शरीरिक शिक्षको को न्याय

                        आर० एंड० पी० रूल फॉलो करते हुए भी उन्हे नौकरी से मेहरुम रखा जा रहा है 

पालमपुर,रिपोर्ट प्रवीण शर्मा 

पिछले कई वर्षो से नौकरी की आशा मे हज़ारो बेरोजगार प्रशिक्षित शरीरिक शिक्षक ना जाने कौन से गुनाह की सज़ा भुगत रहे है । आर० एंड० पी० रूल फॉलो करते हुए भी उन्हे नौकरी से मेहरुम रखा जा रहा है । पिछली जयराम सरकार ने एक भी पद P.E. T का नही भरा , जिसका खामियाजा उन्होंने भुगता और अब बेरोजगार शिक्षकों को सुखविंदर सिंह सुखु जी से बहुत आस है कि वह जल्दी ही शारीरिक शिक्षको की भर्ती करेंगे । 

परंतु संघ के अध्यक्ष ने जानकारी देते हुए कहा है कि 2019 मे जब 870 पदों की घोषणा पिछली सरकार  ने की तब योग राज नामक एक व्यक्ति ने कोर्ट से स्टे ले लिया और भर्ती को रोक दिया, जिसका खमयाज़ा आज तक प्रशिक्षित बेरोजगार शरीरिक शिक्षक भुगत रहे है । जबकि आर० एंड० पी० रूल 2011 मे बनाये गये थे । उसके बाद जितनी भी भर्तियाँ 2011 से 2018 तक हुई, इनको बाहर किया गया था, जबकि कुछ लोगो ने कमिशन भी किया हुआ था । 2019 से लेकर 2023 तक बिना वजह स्टे लगा हुआ है, जबकि इसकी वजह से कई लोग ओवरेज़ हो गये , जिसका खामयाजा प्रशिक्षित बेरोजगार शरीरिक शिक्षकों को भुगतना पड़ रहा है । 

संघ के अध्यक्ष ने सरकार के अनुसार दिया है कि आगामी तारीक 31-8-23 को माननीय हाई कोर्ट मे फाइनल तारीक है। इसमे इस स्टे को तोड़ा जाए और जल्दी से जल्दी स्कुलो  मे शरीरिक शिक्षकों की भर्ती की जाए । हिमाचल प्रदेश मे 2031 पद शरीरिक शिक्षकों के खाली चल रहे है और संघ ने सरकार से यह अनुरोध किया है कि 2019 से यह मेटर कोर्ट मे चल रहा है । जिसकी वजह से प्रशिक्षित बेरोजगार  पिस रहे है और इस मेटर को प्राथमिकता के आधार पर हल किया जाए ।




Post a Comment

0 Comments

हिडिंबा माता मंदिर में  उपमुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने बेटी के साथ नवाया शीश