Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

सरकार कह रही है राजनीति न करें लेकिन उनके व्यवहार में नहीं दिख रहा हैं : जयराम ठाकुर

          मैं दिल्ली जाकर हिमाचल प्रदेश के मदद की बात करता हूं, ज़्यादा सहयोग का आग्रह करता हूँ

शिमला,रिपोर्ट नीरज डोगरा 

नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार कह रही है कि आपदा पर राजनीति नहीं होनी चाहिये लेकिन यह बात उनके आचरण में कहीं दिखाई नहीं दे रही हैं। केंद्र सरकार हिमाचल की हर प्रकार से मदद कर रहा है और राज्य सरकार कह रही है कि केंद्र कोई मदद नहीं कर रहा है। यह उचित बात नहीं है। राज्य सरकार अपनी मांगे रखे, ज़्यादा नुक़सान हुआ है तो ज़्यादा मदद मिलनी चाहिए, यह मांग करना राज्य सरकार का अधिकार है। इसके साथ ही राज्य सरकार यह भी बताए की केंद्र की तरफ़ से क्या सहयोग मिला है। उन्हें बताना चाहिए कि उन्होंने आपदा प्रभावितों के लिए क्या किया है। नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने आज महामहिम राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल से शिष्टाचार भेंट की । दोपहर बारह बजे वह राज भवन पहुँचे। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने प्रदेश में आपदा से उपजे हालात पर चर्चा की।


 
नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि दो बार हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा जी प्रदेश का दौरा कर चुके हैं। मुख्यमंत्री और मीडिया के सामने कह चुके हैं कि केंद्र हिमाचल की हर मदद करेगा। तीन-तीन बार मैं दिल्ली जाकर गृहमंत्री समेत सभी नेताओं से मिल चुका हूँ। सड़क और परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी ख़ुद आकर आपदा से हुए नुक़सान का जायज़ा लेकर गये हैं और सड़कों को सही करने के बारे में कहा है। सभी फ़ोर लेन और नेशनल हाईवे के एक किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी पुलों, सड़कों और लिंक रोड को एनएचएआई द्वारा दुरुस्त करवाने की घोषणा कर चुके हैं। राज्य सरकार को सीआरएफ़ के तहत 400 करोड़ रुपये दे चुके हैं। उन्होंने कहा कि आपदा के बाद से मैं तीन बार दिल्ली जाकर प्रदेश में हुए नुक़सान के बारे में बताया। प्रदेश का पक्ष रखा और इस आपदा में ज़्यादा से ज़्यादा सहयोग करने का आग्रह किया। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि विधान सभा का सत्र बुलाना राज्य सरकार पर निर्भर करता है। सरकार जब चाहेगी हम तैयार हैं। मानसून सत्र 15 अगस्त तक हो जाता है। कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक स्वयं विधान सभा सत्र की माँग कर रहे हैं। यह बातें उन्होंने महामहिम से मुलाक़ात के बाद पत्रकारों द्वारा पूछे गये सवाल के जवाब में कही। 





Post a Comment

0 Comments

सात एचपीएस अधिकारियो को पुलिस अधीक्षक का रूप मे नियुक्ति