Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

धर्मशाला के डल झील में अगर भीड़ बढ़ी तो रास्ते में रोकी जाएंगी गाड़ियां

 पुलिस थाना मैक्लोडगंज के प्रभारी रिंकू सूर्यवंशी ने बताया कि डल झील का पवित्र स्नान 22 और 23 सितंबर को होगा

धर्मशाला,रिपोर्ट  नेहा धीमान 

 मिनी मणिमहेश से प्रसिद्ध मैक्लोडगंज की नड्डी स्थित डल झील में होने वाले शाही स्नान के दौरान अगर श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ी तो उनकी गाड़ियों को रास्ते में रोका जाएगा। इसके अलावा सुरक्षा-व्यवस्था और यातायात प्रबंधन को लेकर भी दो रिजर्व बटालियन मैक्लोडगंज और नड्डी सहित अन्य क्षेत्रों में तैनात होंगी। इसके अलावा गोताखोरों के साथ एसडीआरएफ की टीमें भी शाही स्नान के दौरान अपनी सेवाएं देंगी।

पुलिस थाना मैक्लोडगंज के प्रभारी रिंकू सूर्यवंशी ने बताया कि डल झील का पवित्र स्नान 22 और 23 सितंबर को होगा। इस दौरान उमड़ने वाली वाली श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए पुलिस विभाग ने भी तैयारी कर ली है। सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस की दो रिजर्व बटालियन तैनात की जाएंगी। पुलिस ने मेले को लेकर यातायात प्लान तैयार कर लिया है। इस बार झील में पानी अधिक होने के कारण एसडीआरएफ के साथ ही गोताखोरों की भी तैनाती की गई है। यह पहली बार है कि डल झील में स्नान के दौरान गोताखोर भी उपलब्ध रहेंगे।उधर, एएसपी कांगड़ा बीर बहादुर ने बताया कि पवित्र स्नान को लेकर पुलिस विभाग ने योजना बनाई है। सुरक्षा-व्यवस्था और यातायात प्रबंधन के लिए दो रिजर्व बटालियन तैनात रहेंगी। ट्रैफिक प्लान इस तरह से तैयार किया गया है कि बाहरी श्रद्धालुओं और स्थानीय लोगों को कोई परेशानी न हो। पुलिस जवानों की तैनाती की जा रही है। डल झील तक पहुंचने के लिए एक ही सड़क है। ऐसे में इस मार्ग पर वन-वे व्यवस्था को लागू नहीं किया जा सकता। इसके अलावा वहां पार्किंग भी इतना बड़ी नहीं है कि ज्यादा गाड़ियां खड़ी की जा सकें। स्नान सुबह के समय होगा। ऐसे में अगर श्रद्धालुओं की भीड़ ज्यादा बढ़ गई तो गाड़ियों को बीच रास्ते में भी रोका जा सकता है।





Post a Comment

0 Comments

जिला कुल्लू में नशा कर पछताईं वायरल वीडियो वाली लड़कियां