Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

विवादों के चलते प्रसिद्ध ढलियारा मेले के आयोजन पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं

                                              ढलियारा मेले के आयोजन स्थल को लेकर विवाद

काँगड़ा,रिपोर्ट नेहा धीमान 

 विवादों के चलते प्रसिद्ध ढलियारा मेले के आयोजन पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं। मेले के स्थान को लेकर यह विवाद शुरू हुआ है। अभी तक यह मेला ढलियारा स्कूल के साथ लगते मैदान में होता आया है, लेकिन इस बार जब मेला कमेटी ने मेले के आयोजन को लेकर प्रशासन से अनुमति मांगी गई तो हाईकोर्ट के आदेशों का हवाला देकर इंकार कर दिया गया कि स्कूल ग्राउंड में इस तरह के कार्यक्रम नहीं हो सकते।

वहीं मेला कमेटी प्रधान और पंचायत उपप्रधान वीरेंद्र मनकोटिया ने सवाल उठाया कि जब क्षेत्र में कई मेले स्कूल मैदान में हो चुके हैं तो ढलियारा का मेला स्कूल मैदान में क्यों नहीं हो सकता। उनका कहना है कि मेला कोई राजनीतिक सभा नहीं होती है बल्कि मेला एक सांस्कृतिक कार्यक्रम है, जो दशकों से होते आ रहे हैं। उन्होंने सवाल किया कि इस ग्राउंड में कई मुख्यमंत्रियों के हेलिकाप्टर भी उतरते रहे हैं। राजनीतिक सभाएं होती रही हैं तो उस समय प्रशासन ने कैसे अनुमति दे दी। उन्होंने कहा कि यह लोगों की भावनाओं से खिलवाड़ किया जा रहा है। 

मनकोटिया ने कहा कि यदि प्रशासन ढलियारा बाजार के साथ लगते मैदान में मेले के आयोजन को अनुमति नहीं देता है तो भी मेला होगा, लेकिन स्थान बदला जाएगा। ढलियारा मेला 23 और 24 सितंबर को ठाकुर कॉलेज ऑफ ग्रुप के साथ लगते मैदान में होगा। हालांकि इससे बाजार के दुकानदारों को भारी नुकसान होगा, लेकिन वह मजबूर हैं। एसडीएम शिल्पी बेक्टा ने बताया कि हाईकोर्ट के आदेश हैं कि स्कूल मैदान में मेले जैसे आयोजन नहीं हो सकते हैं इसलिए स्कूल मैदान में मेले के आयोजन को लेकर अनुमति नहीं दी गई है। उन्होंने कहा कि इससे पहले जहां कहीं भी स्कूल मैदान में मेलों का आयोजन हुआ है, उनको कारण बताओ नोटिस जारी होंगे।





Post a Comment

0 Comments

जिला कुल्लू में नशा कर पछताईं वायरल वीडियो वाली लड़कियां