Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

क्षेत्रीय फिल्मों के निर्माण पर बल दिया जाएगा: मुख्यमंत्री

                               सिनेमा सांस्कृतिक और क्षेत्रीय जुड़ाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है

शिमला,रिपोर्ट नीरज डोगरा 

मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने शुक्रवार सायं शिमला के 9वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का शुभारम्भ किया। इस फिल्मोत्सव में 20 देशों और भारत के 22 राज्यों के फिल्म निर्माता भाग ले रहे हैं। 24 सितम्बर तक चलने वाले इस महोत्सव में संयुक्त राज्य अमेरिका, बेल्जियम, ईरान, कनाडा, चीन, चेक गणराज्य, तुर्की, नेपाल, मिस्र, बांग्लादेश, इटली, पोलैंड, अर्जेंटीना, स्वीडन, अफगानिस्तान, आस्ट्रेलिया, फ्रांस और दुबई के अंतर्राष्ट्रीय फिल्म निर्माता अपनी फिल्मों को प्रदर्शित करेंगे।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह महोत्सव 20 देशों और पूरे भारत की संस्कृति, मूल्यों और कला का समागम है। उन्होंने कहा कि समाज को प्रतिबिम्बित करने में फिल्मों की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है। उन्हें जब अपने व्यस्त कार्यक्रम से समय मिलता है तो वह अवश्य फिल्में देखते हैं। उन्होंने कहा कि दैनिक जीवन की व्यस्ताओं में फिल्में मनोरंजन उपलब्ध करवाने का एक साधन है। उन्होंने सिनेमा के महत्व पर बल देते हुए कहा कि फिल्में एक दर्पण के रूप में कार्य करती हैं, जो समाज की विविधता, संस्कृति और मुद्दों को दर्शाती हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य में पहाड़ी भाषा और क्षेत्रीय फिल्मों को प्रोत्साहन प्रदान करने के लिए प्रयासरत है।

उन्होंने कहा कि शिमला का अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव कला एवं संस्कृति के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण आयोजन है, जो हिमाचल प्रदेश और वैश्विक फिल्म समुदाय के बीच एक मजबूत रिश्ता कायम रखता है। सिनेमा के माध्यम से हम अपनी संस्कृति, सिद्धांतों और कला को दुनिया तक पहुंचाते हैं।इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने महोत्सव पुस्तिका का विमोचन भी किया। उन्होंने महोत्सव के शुभारम्भ के दौरान प्रदर्शित फिल्म ‘रोया’ भी देखी।

महोत्सव के निदेशक पुष्प राज ठाकुर ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया करते हुए कहा कि इस वर्ष 9वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव शिमला के अंतर्गत कण्डा और नाहन की मॉडल सेंट्रल जेल में भी फिल्मों को प्रदर्शित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि ढली में विशेष योग्यता वाले बच्चों के संस्थान में भी फिल्में दिखाई जाएंगी। यहां पर 130 छात्रों को अपने परिसर में फिल्में देखने का अवसर मिलेगा। शिमला के गेयटी थिएटर के साथ इन स्थानों में 22 से 24 सितंबर, 2023 तक तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव की मेजबानी की जाएगी।




Post a Comment

0 Comments