Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

शिमला और कुल्लू के कई ऊंचाई वाले क्षेत्रों में सोमवार शाम हुई ओलावृष्टि से सेब को भारी नुकसान

         हिमाचल के कई भागों में ओलावृष्टि से सेब को नुकसान, जानें 10 सितंबर तक का मौसम पूर्वानुमान

शिमला,रिपोर्ट नीरज डोगरा'

हिमाचल प्रदेश के जिला शिमला और कुल्लू के कई ऊंचाई वाले क्षेत्रों में सोमवार शाम हुई ओलावृष्टि से सेब को भारी नुकसान हुआ है। कोल बांध झील में जा रही वोट तेज हवाओं से अनियंत्रित हो गई। 70 बच्चे व ग्रामीण बाल-बाल बचे। राजधानी शिमला, मंडी, सुंदरनगर और धर्मशाला में सोमवार शाम को बादल झमाझम बरसे। सोमवार शाम करीब साढ़े पांच बजे के बाद हुई ओलावृष्टि से शिमला जिले के कोटखाई के बाघी, कलबोग और कुल्लू के आनी व जलोड़ी में सेब की फसल को अधिक नुकसान हुआ है।

उधर, सतलुज नदी पर बनी कोल बांध परियोजना की झील के रास्ते स्कूल से नाव में घर लौट रहे करीब 70 स्कूली बच्चे और ग्रामीण बड़े हादसे का शिकार होने से बाल-बाल बच गए। सोमवार शाम करीब 4:30 बजे बिलासपुर के हरनोडा और ध्वाल स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे और कुछ ग्रामीणों को लेकर नाव एहण जा रही थी तो अचानक तेज हवाएं चल पड़ीं। इसी दौरान एनटीपीसी की एक बड़ी नाव छोटी नाव के पास से गुजरी, जिसके कारण पानी में लहरें और ऊंची उठ गईं। इस कारण छोटी नाव अनियंत्रित हो गई और उसमें बैठे बच्चे व ग्रामीण डर के मारे चिल्लाने लगे। चालक ने हिम्मत करते हुए किसी तरह से नाव को एक पहाड़ी के किनारे पहुंचाया। जहां पर गिरते, संभलते, एक-दूसरे का हाथ पकड़ते हुए सभी सुरक्षित स्थान पर पहुंचे। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार प्रदेश के कई भागों में छह दिनों तक मौसम खराब रहने की संभावना है। विभाग के अनुसार 5 से 10 सितंबर तक कुछ भागों में बारिश हो सकती है। हालांकि, किसी जिले के लिए कोई अलर्ट जारी नहीं हुआ है। आज शिमला सहित अन्य भागों में मौसम खराब बना हुआ है। बिलासपुर, हमीरपुर, कुल्लू, मंडी, शिमला, सिरमौर, सोलन, ऊना में कुछ स्थानों पर गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश और कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि और तेज बारिश होने की संभावना जताई गई है। 




Post a Comment

0 Comments

आदित्य राणा सपैडू व काजल कपूर पट्टी ( चन्दरोपा ) ने किया पालमपुर का नाम रोशन