Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

ज्वाली में खुशहाल किसान योजना के अंतर्गत प्राकृतिक खेती में एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन

 जिसमें किसानों को प्राकृतिक खेती व प्राकृतिक खेती में उपयोग होने वाले सभी घटकों के बारे में भी विस्तार पूर्वक जानकारी दी गयी

ज्वाली,रिपोर्ट राजेश कतनौरिया 

जवाली बिधान सभा  क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत भलाड़ में कृषि प्रौद्योगिकी प्रबंधन अभिकरण आत्मा विकास खंड नगरोटा सुरियां द्वारा ग्राम पंचायत भलाड़ में प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना के अंतर्गत प्राकृतिक खेती में एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया । जिसमें किसानों को प्राकृतिक खेती व प्राकृतिक खेती में उपयोग होने वाले सभी घटकों के बारे में भी विस्तार पूर्वक जानकारी दी गयी।

 नगरोटा सुरियां विकासखंड के सहायक तकनीकी प्रबंधक  सन्नी कुमार ने किसानों को प्राकृतिक खेती के 4 स्तंभ जिस पर प्राकृतिक खेती आधारित है जीवामृत, घनजीवामृत, बीजामृत तथा बापसा के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। प्राकृतिक खेती द्वारा तैयार किए जाने वाली फसलों में रसायनिक उर्वरक की जगह प्राकृतिक खाद का प्रयोग किया जाता हैं जिससे फसल जहर मुक्त होती है और प्राकृतिक खेती द्वारा तैयार फसलों से किसानों को कम लागत में अच्छी पैदावार का लाभ मिलता है। उन्होंने कहा कि इस तरह की गतिविधियों को आयोजित करने का उद्देश्य है कि संपूर्ण किसान वर्ग प्राकृतिक खेती के बारे में जाने और लाभ उठाए।




Post a Comment

0 Comments

टकारला में खेत में पड़ा पशुचारा (तूड़ी) जलकर राख