Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) के तहत केंद्र सरकार ने लगभग 9,000 करोड़ रुपये खर्च किए हैं

 ऑनलाइन बेचे जाएंगे उत्पाद, 2025 तक के स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं की आय दोगुनी करना लक्ष्यः अनुराग ठाकुर

ऊना,रिपोर्ट अविनाश चौहान 

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (एनआरएलएम) के तहत केंद्र सरकार ने लगभग 9,000 करोड़ रुपये खर्च किए हैं, ताकि ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाएं सामूहिक प्रयासों से आत्मनिर्भर बनकर गर्व से अपना जीवन यापन कर सके। सरकार के इन्हीं प्रयासों के तहत ग्रामीण महिलाओं द्वारा स्वयं सहायता समूहों का गठन कर अपनी आय बढ़ाने के प्रयास किया जा रहे हैं। यह बात केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने जिला परिषद हाल ऊना में आत्मनिर्भर नारी शक्ति संवाद कार्यक्रम के तहत स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी लगभग 200 महिलाओं को संबोधित करते हुए कही।

अनुराग ठाकुर ने कहा कि निकट भविष्य में स्वयं सहायता समूह के उत्पादों को ई-कॉमर्स के मंच पर उपलब्ध करवाया जाएगा ताकि ऑनलाइन बिक्री के माध्यम से इन उत्पादों की बिक्री में इजाफा किया जा सके। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2025 के अंत तक स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिलाओं कि आय को दोगुना करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। डीआरडीए ऊना की परियोजना अधिकारी शेफाली शर्मा तथा आत्मा प्रोजेक्ट परियोजना निदेशक वीरेंद्र कुमार बग्गा ने सरकार द्वारा उनके विभागों के माध्यम से चलाई जा रही योजनाओं बारे विस्तृत जानकारी दी।





Post a Comment

0 Comments

फिर शातिरों ने चली चाल एक युवक से तीन लाख की धोखाधड़ी