Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

जिला मंडी के सरदार पटेल यूनिवर्सिटी 14 दिन में पंजीकरण के लिए मात्र 900 आवेदन

                                       यह पोर्टल एसपीयू मंडी की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है

मंडी,ब्यूरो रिपोर्ट 

सरदार पटेल विश्वविद्यालय मंडी का शैक्षणिक सत्र 2023-2024 के लिए पंजीकरण पोर्टल 30 नवंबर तक सक्रिय रहेगा। यह पोर्टल एसपीयू मंडी की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध है। यहां क्लिक करने के बाद पंजीकरण के लिए सभी जरूरी दिशानिर्देश दिए गए हैं। यह पोर्टल बीते आठ नवंबर से सक्रिय है, लेकिन 14 दिन में मात्र 900 विद्यार्थियों ने ही पंजीकरण के लिए आवेदन किया है।

इस पंजीकरण पोर्टल से संबंधित जरूरी सूचना एवं दिशानिर्देश सभी संबंधित महाविद्यालयों के प्रधानाचार्यों और विद्यार्थियों को जारी कर दिए गए हैं, लेकिन दो सप्ताह बाद कम संख्या में ही पंजीकरण के लिए आवेदन हुआ है। एसपीयू प्रबंधन ने सभी प्राचार्यों से आग्रह किया है कि अपने कॉलेज के प्रथम वर्ष/समेस्टर के विद्यार्थियों को समय रहते ऑनलाइन पंजीकरण फार्म भरने के लिए सूचित करें।इसके अलावा भरे हुए पंजीकरण फार्म की सत्यापन प्रक्रिया शुरू करने के लिए अपने कॉलेज के यूनिवर्सिटी डीलिंग असिस्टेंट को निर्देश जारी करें। कॉलेज अथॉरिटी लॉग इन पर जाकर सत्यापित प्रपत्रों को अपने स्तर पर अनुमोदित करने का कार्य शुरू करें ताकि निर्धारित तिथि तक सभी छात्रों की पंजीकरण प्रक्रिया पूर्ण की जा सके। एसपीयू के परीक्षा नियंत्रक ई. सुनील वर्मा ने बताया कि 30 नवंबर के बाद पंजीकरण फार्म भरने वाले विद्यार्थियों को नियमानुसार विलंब शुल्क देना होगा।

हिमाचल प्रदेश केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. सत प्रकाश बंसल ने कहा कि विवि के दृश्य कला विभाग में अब संस्कृति मंत्रालय के सौजन्य से चल रहे सीसीआरटी (सेंटर फार क्लचरल रिसोर्स एंड ट्रेनिंग) के साथ मिलकर एक साल का सर्टिफिकेट कोर्स शुरू करने जा रहे हैं। नए अकादमिक सत्र से इस कोर्स को शुरू किया जाएगा। ऑनलाइन और ऑफलाइन चलाए जाने वाले इस कोर्स में पचास विद्यार्थियों को दाखिला मिलेगा। इन्हें विवि प्रमाणपत्र भी देगा।मंगलवार को कुलपति सचिवालय में सीसीआरटी के साथ करार हुआ। इस मौके पर सेंटर के निदेशक रिषी विशिष्ट भी मौजूद रहे। दोनों संस्थानों में समझौता होने के बाद यहां भी विद्यार्थी कोर्सों का लाभ उठा सकेंगे। कुलपति ने बताया कि प्रोत्साहन के तौर पर कलाकारों को प्रोत्साहन करने के लिए छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है। इससे विवि में बीएफए के विद्यार्थी लाभान्वित हो पाएंगे।



Post a Comment

0 Comments