Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

प्रदेश सरकार ने 2024 तक राज्य को टीबी मुक्त बनाने का लक्ष्य रखा है

                                                         पंचायत प्रधान करेंगे टीबी मरीजों की पहचान

काँगड़ा,रिपोर्ट नेहा धीमान 

प्रदेश सरकार ने 2024 तक राज्य को टीबी मुक्त बनाने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से कई प्रयास किए जा रहे हैं। इनमें से एक पहल पंचायत प्रधानों को टीबी के बारे में जागरूक करने की है। इसके तहत देहरा ब्लॉक के सभी पंचायत प्रधानों को टीबी के बारे में प्रशिक्षण दिया गया। यह प्रशिक्षण बीएमओ ज्वालामुखी डॉ. संजय बजाज की ओर से देहरा ब्लॉक के सभागार में दिया गया।

 इसमें सेंट्रल यूनिवर्सिटी देहरा के प्रोफेसर, ज्वालामुखी ब्लॉक के टीबी सीनियर सुपरवाइजर अनिल राणा सहित सभी पंचायतों के प्रधान उपस्थित रहे। प्रशिक्षण में टीबी के लक्षण, निदान, उपचार और रोकथाम के बारे में जानकारी दी गई। प्रशिक्षण के बाद अब पंचायत प्रधान अपने क्षेत्र में लोगों को टीबी के बारे में जागरूक करेंगे। वे लोगों को टीबी के लक्षणों के बारे में बताएंगे और उन्हें टीबी की जांच करवाने के लिए प्रोत्साहित करेंगे। इस पहल से यह उम्मीद है कि टीबी के मरीजों का जल्दी पता चल सकेगा और उनका इलाज शुरू हो सकेगा। 

इससे टीबी के मामलों में कमी आएगी और राज्य को टीबी मुक्त बनाने के लक्ष्य को प्राप्त करने में भी मदद मिलेगी।बीएमओ ने बताया कि यह एक महत्वपूर्ण पहल है। इससे टीबी के बारे में लोगों को जागरूक करने में मदद मिलेगी। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण में पंचायत प्रधानों को टीबी के बारे में सभी आवश्यक जानकारी दी गई है। ग्राम पंचायत हिरण की प्रधान ममता ठाकुर ने बताया कि प्रशिक्षण में पंचायत प्रधानों को टीबी के बारे में जागरूक किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के बाद प्रधान अपने क्षेत्र में लोगों को टीबी के बारे में जागरूक करेंगे।



Post a Comment

0 Comments

4 मार्च से ऊना-हरिद्वार ट्रेन सेवा शुरू होगी