Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

ज्वालामुखी तहसील के 20 में से दो पटवार सर्किलों में स्थायी पटवारी और कानूनगो नहीं है

                                                  पटवारी और कानूनगो के पद खाली होने से लटके कार्य

काँगड़ा,रिपोर्ट नेहा धीमान 

ज्वालामुखी तहसील के 20 में से दो पटवार सर्किलों में स्थायी पटवारी और कानूनगो नहीं है। इनमें ज्वालामुखी और पठियार शामिल सर्किल शामिल हैं जिनमें पटवारी नही है। साथ ही पटवार सर्किल ज्वालामुखी व घलौर में कानूनगो की स्थायी नियुक्ति नहीं की गई है। इसके चलते लोगों के भूमि संबंधी व छात्रों के कई प्रमाण पत्र संबंधी कार्य देरी से हो रहे हैं। ज्वालामुखी शहरी क्षेत्र के कानूनगो का स्थानांतरण व पटवारी की पदोन्नति होने के कारण यह पद खाली पड़े हैं। 

मौजूदा समय में पटवारी के पद पर अस्थायी तौर एक पटवारी सेवाएं दे रहा है, जो हफ्ते में तीन दिन ज्वालामुखी और तीन दिन अन्य पटवार सर्किल में सेवाएं देता है। पद खाली होने के कारण भूमि संबंधित गिरदावरी, तक्सीम, इंतकाल जैसे कार्य कई माह से लटके हुए हैं। ज्वालामुखी में नियमित रूप से पटवारी न आने के कारण जमीन के दस्तावेजों, आय प्रमाण पत्रों, बोनाफाइड सहित अन्य कार्यों के लिए लोगों को परेशान होना पड़ रहा है।हफ्ते में तीन दिन पटवार सर्किल में ताला लटका रहता है। स्थानीय लोगों विशाल, रवि, मुकेश, अभी, पंकज, राहुल, शुभम, विजय, मुनीश, दिनेश आदि ने प्रशासन से शीघ्र इन पटवार सर्किलों में खाली पदों पर पटवारी और कानूनगो की नियुक्ति करने की मांग की है।रिक्त पदों की सूचना उच्च अधिकारियों को दी गई है। जैसे ही नियुक्तियां होती हैं, समस्या का हल हो जाएगा। 




Post a Comment

0 Comments

आपदा का खतरा: जवाली क्षेत्र में लैंटर गिरने से हो गया बड़ा हादसा