Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

क्या कहा भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य घनश्याम शर्मा ने प्रदेश सरकार को लेकर

 शर्मा ने कहा कि प्रदेश सीएम सचिवालय कर्मियों की बैठक में जाकर अपनी सरकार के कर्मचारी विरोधी होने का सबूत खुद दिया है

पालमपुर,रिपोर्ट प्रवीण शर्मा 

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य एवं भारतीय राज्य पेंशनर संघ के  वारिष्ठ उपाध्यक्ष घनश्याम शर्मा ने कहा कि आज प्रदेश सरकार एक तरफ जहां आर्थिक तंगी का रोना रो रही है। वहीं दूसरी तरफ 6 -6 सलाहकारों की नियुक्ति कर लाखों करोड़ों रुपये उनके वेतन भत्तों पर उड़ा रही है। शर्मा ने कहा कि प्रदेश सीएम सचिवालय कर्मियों की बैठक में जाकर अपनी सरकार के कर्मचारी विरोधी होने का सबूत खुद दिया है। 

सीएम ने गत दिवस बैठक में जाकर यह कहा कि सरकार आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रही है। कर्मियों को अभी कुछ राहत नहीं दी जा सकती। इससे साफ है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार पूरी तरह कर्मचारी विरोधी है। घनश्याम शर्मा ने कहा कि आज सरकार आर्थिक तंगी के बावजूद अपने खर्चों में कटौती के बावजूद व्यर्थ के खर्चे बढ़ा रही है। कर्मचारियों को उनके देय लाभ नहीं दिए जा रहे हैं। पेंशनर्ज को उनकी पेंशन तक समय पर नहीं दी जा रही हैं। जिससे  साफ है कि यह कांग्रेस की सरकार जनविरोधी नीतियों की जनाधार बनती जा रही है।




Post a Comment

0 Comments