Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

जिला शिमला में पिंजौर बाईपास से चलेंगी शिमला-दिल्ली रूट की वोल्वो

                                शिमला-दिल्ली रूट पर चलने वाली वोल्वो बसें पिंजौर बाईपास होकर चलेंगी

शिमला,रिपोर्ट नीरज डोगरा 

शिमला-दिल्ली रूट पर चलने वाली वोल्वो बसें पिंजौर बाईपास होकर चलेंगी। एचआरटीसी की ओर से वोल्वो यात्रियों के लिए शुरू की फीडबैक सेवा से मिले सुझावों के आधार पर वोल्वो रूटों में संशोधन किया है। निगम प्रबंधन ने फैसला लिया है कि शिमला-दिल्ली रूट पर आवाजाही करने वाली कोई भी वोल्वो कालका, पिंजौर, परवाणु नहीं जाएगी। दिल्ली से रात 9:30 और10:30 बजे चलने वाली वोल्वो चंडीगढ़ नहीं जाएगी और जीरकपुर से सीधे पंचकुला होते हुए शिमला आएगी ताकि यात्रियों के समय की बचत हो सके।

शिमला से सुबह 9:45 बजे चलने वाली वोल्वो पंचकुला से ट्रिब्यून चौक होते जाएगी और शिमला से दोपहर बाद 1:45 वोल्वो सीधी पंचकुला से जीरकपुर होते हुए दिल्ली जाएगी। रूटों में बदलाव से यह गाड़ियां दिल्ली पहुंचने में लगभग दो घंटे कम लेगी। यात्री जाम में नहीं फंसेंगे और आसानी से मेट्रो पकड़ सकेंगे। शिमला से चंडीगढ़ एयरपोर्ट वोल्वो पिंजौर बाईपास से होकर चलेगी। पिंजौर, कालका, परवाणु से निगम की वोल्वो में सफर करने वाले यात्री टीटीआर परवाणु या फिर पिंजौर (दिल्ली- शिमला हाईवे) से इन बसों में सवार हो सकेंगे।एचआरटीसी के नए बस अड्डों में बनी 20 फीसदी दुकानें आरक्षित वर्ग को आवंटित होंगी। दिव्यांगों के अलावा वार विडो, विधवा, एकल नारी, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और आईआरडीपी के साथ कुछ आरक्षित श्रेणियों के लिए दुकानें आरक्षित रखी जाएंगी। 80 फीसदी दुकानें खुली बोली के तहत नीलाम की जाएंगी। 91 से 100 फीसदी दिव्यांगता पर छह अंक, 40 से 90 फीसदी दिव्यांगता पर पांच अंक, युद्ध विधवा, बलिदानियों के आश्रितों को तीन अंक, एकल नारी/विधवा को दो अंक, अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति व अन्य पिछड़ा वर्ग के सदस्य को दो अंक और आईआरडीपी, बीपीएल को दो अंक दिए जाएंगे। 




Post a Comment

0 Comments

फिर शातिरों ने चली चाल एक युवक से तीन लाख की धोखाधड़ी