Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

जिला चंबा में सार्वजनिक स्थानों पर होर्डिंग और पोस्टर की भरमार से शहर की सूरत बिगड़ गई है

                           होर्डिंग की भरमार, नियमों का पालन करवाने में प्रशासन और विभाग लाचार

चम्बा,ब्यूरो रिपोर्ट 

जिला चंबा में सार्वजनिक स्थानों पर होर्डिंग और पोस्टर की भरमार से शहर की सूरत बिगड़ गई है। हैरत की बात है कि प्रशासन, नगर निकाय और नगर पंचायतें इन नियमों का पालन करवाने में फिसड्डी साबित होती नजर आ रही हैं।आलम यह है कि जिले में अब कोई ऐसा चौक-चौराहा शेष नहीं बचा है, जहां बिना अनुमति के व्यापारिक प्रतिष्ठानों, शैक्षणिक संस्थानों या अन्य राजनेताओं के होर्डिंग न दिखते हो। शहर के व्यापारिक प्रतिष्ठानों समेत अन्य संस्थाओं के होर्डिंग और पोस्टरों से सार्वजनिक स्थल अटे पड़े हैं।

 नगर परिषद चंबा के अधिकारी अनुमति के आधार पर ही सार्वजनिक स्थलों में होर्डिंग और पोस्टर लगाने की बात कहकर अपना पल्लू झाड़ रहे हैं। मंदिर और मस्जिद से लेकर अस्पतालों की दीवारों समेत सार्वजनिक स्थानों पर भी बिना अनुमति लगाए पोस्टर और बैनर साफ देखे जा सकते हैं। निशुल्क प्रचार करने के लिए सार्वजनिक स्थानों पर इस कार्य को अंजाम दिया जा रहा है। प्रशासन और नगर परिषद इन पर लगाम लगाने में असफल होती प्रतीत हो रही है। नगर परिषद ने पूरे शहर में दो स्थान होर्डिंग और पोस्टरों के लिए निर्धारित किए हैं, लेकिन इस समय इन स्थानों पर होर्डिंग लगाने के लिए किसी भी एजेंसी को अनुमति नहीं दी गई है।

शहर में लगे स्ट्रीट लाइटों के खंभों और अन्य सार्वजनिक स्थलों पर भी बिना किसी अनुमति के लगातार होर्डिंग लगाए जा रहे हैं। इस पर अतिक्रमण हटाने वाली नगर परिषद की टीम इन होर्डिंगों को हटाने की कार्रवाई शुरू नहीं कर पाई है।उधर, नगर परिषद के कार्यवाहक कार्यकारी अधिकारी संदीप कुमार ने कहा कि सार्वजनिक स्थानों पर सिर्फ अनुमति लेने वाले व्यक्ति ही होर्डिंग लगा सकते हैं। शेष लगे अवैध होर्डिंग को हटाया जाएगा। नियमों की अवहेलना करने वालों पर नकेल कसी जाएगी।



Post a Comment

0 Comments

काले कपड़े पहन फीस वृद्धि के खिलाफ अभाविप का अनोखा प्रदर्शन