Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

प्रदेश सरकार की हिमकेयर योजना मरीजों के लिए वरदान साबित हो रही है

                                  हिमकेयर का भुगतान रुकने से निजी अस्पतालों के फंस गए करोड़ों रुपये

मंडी,ब्यूरो रिपोर्ट 

 प्रदेश सरकार की हिमकेयर योजना मरीजों के लिए वरदान साबित हो रही है। मरीजों को सरकार की ओर से अधिसूचित किए गए निजी अस्पतालों में निशुल्क उपचार का लाभ भी मिल रहा है। मगर इस बीच कई महीनों से हिमकेयर योजना के तहत भुगतान न होने से निजी अस्पतालों की दिक्कतें बढ़ गई हैं।



इंडियन मेडिकल एसोसिएशन मंडी और प्राइवेट अस्पताल एसोसिएशन जिला मंडी ने सरकार से आग्रह किया है कि करोड़ों रुपये के भुगतान महीनों से रुका हुआ है, उसे तुरंत अदा किया जाए। यही नहीं एमओयू के अनुसार यह भुगतान एक महीने के अंदर हो जाना चाहिए। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन मंडी के प्रधान डॉ. अमित ठाकुर, प्राइवेट अस्पताल एसोसिएशन के जिला मंडी प्रधान डॉ. करणबीर सिंह, सचिव डॉ. मंजुल शर्मा व डॉ. अरूण चंदेल ने कहा कि मरीजों को दी जा रही इस निशुल्क चिकित्सा सेवा का करोड़ों रुपये का भुगतान फंसा हुआ है।

उन्होंने कहा कि मरीजों के वरदान बनी यह योजना अधिसूचित अस्पतालों के लिए गले की हड्डी बन गई है। एक तरफ सरकार इन बिलों का भुगतान नहीं कर रही है तो दूसरी तरफ अस्पतालों को अपने स्टाफ, डॉक्टरों के वेतन के अलावा उनका ईपीएफ, ईएसआई, दवाइयां और सर्जिकल वेंडर्स की पेमेंट करनी पड़ रही है। एसोसिएशन ने सरकार से आग्रह किया है कि अस्पतालों की बकाया राशि का भुगतान जल्द किया जाए।



Post a Comment

0 Comments

हिमाचल में जंगलों की आग ने पिछले साल का तोड़ा रिकॉर्ड