Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

जिले में सुबह और शाम के समय चलने वाली शीतलहर ने लोगों का घर से निकलना मुश्किल कर दिया है

                                    जिले में शीतलहर का प्रकोप, न्यूनतम तापमान पांच डिग्री से कम

ऊना,रिपोर्ट अविनाश चौहान 

जिले में सुबह और शाम के समय चलने वाली शीतलहर ने लोगों का घर से निकलना मुश्किल कर दिया है। जिले का तापमान बीते कुछ दिनों से पांच डिग्री सेल्सियस से नीचे चल रहा है। शुक्रवार को जिले का न्यूनतम तापमान 4.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि बीते वीरवार को न्यूनतम तापमान 2.8 डिग्री सेल्सियस रहा। उधर, जिले में पिछले कुछ दिनों से लगातार बढ़ती ठंड को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन ने एडवाइजरी जारी की है। 

उपायुक्त राघव शर्मा ने कहा कि घटते तापमान को देखते हुए आगामी दिनों में और ठंडी हवाएं, शीतलहर एवं घना कोहरा, धुंध पड़ने के आसार देखे जा सकते हैं।राघव शर्मा ने बताया कि कोहरे में अपने वाहन को कम गति पर चलाएं। कोहरे के दौरान लाइट को कम बीम पर रखें। उच्च बीम धुंधले मौसम की स्थिति में उतने प्रभावी नहीं होते। यदि दृश्यता कम से कम हो जाए तो फॉग लाइट का उपयोग करें। 

वाहनों के बीच अच्छी दूरी बनाए रखें, जब दृश्यता बेहद खराब हो, सड़क पर पेंट की गई लाइन का उपयोग एक गाइड के उन्होंने बताया कि कमरों में हीटर, केरोसिन, कोयले की अंगीठी का प्रयोग करते हुए, धुएं के निकास का उचित प्रबंध करना सुनिश्चित करें। उन्होंने बताया कि कम तापमान में कठिन काम न करें, क्षमता से अधिक शारीरिक कार्य न करें। इससे ह्रदयघात का खतरा उत्पन्न हो सकता है। शीतदंश के लक्षणों पर नजर रखें। जैसे शरीर के अंगों का सुन्न पड़ना हाथों, पैरों की उंगलियों, कान, नाक, आदि पर सफेद या पिले रंग के दाग उभर आना इत्यादि। किसी भी प्रकार की दिक्कत महसूस हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।




Post a Comment

0 Comments

अन्नपूर्णा का सहयोग सम्मान समारोह 6 को