Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

नगर निगम क्षेत्र पालमपुर के लोगों को अब पानी की समस्या से नहीं जूझना पड़ेगा

                                                पालमपुर नगर निगम क्षेत्र के लोगों को 24 घंटे मिलेगा पानी

काँगड़ा,रिपोर्ट नेहा धीमान 

नगर निगम क्षेत्र पालमपुर के लोगों को अब पानी की समस्या से नहीं जूझना पड़ेगा। पेयजल सुविधा के लिए 183 करोड़ रुपये के बजट की स्वीकृति मिल गई है। निगम के छह वार्डों के लिए एएफडी (फ्रेंच डेवलपमेंट एजेंसी) से 135 करोड़ 40 लाख रुपये, जबकि शेष छह वार्डों के लिए प्रदेश सरकार से 48 करोड़ रुपये स्वीकृत हुए हैं। बजट की स्वीकृति मिलने के बाद जलशक्ति विभाग ने टेंडर प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। तकनीकी और वित्तीय निविदा की प्रक्रिया पूरी होने के बाद संबंधित ठेकेदार को कार्य आवंटित होंगे। कार्य हासिल करने वाले ठेकेदार को तीन साल के भीतर इस प्रोजेक्ट कार्य को पूरा करना होगा। वर्तमान में दिन में एक समय ही पेयजल की आपूर्ति हो रही है।

 लेकिन इन दोनों पेयजल योजनाओं का कार्य पूरा होने के बाद निगम क्षेत्र में 24 घंटे पेयजल आपूर्ति शुरू होगी। इन दोनों पेयजल योजनाओं के लिए न्यूगल खड्ड से पानी की आपूर्ति होगी।निगम क्षेत्र के लिए स्वीकृत इस योजना के तहत 13 पेयजल टैंकों का निर्माण किया जाएगा। इसमें एक लाख से लेकर दस लाख लीटर क्षमता के पेयजल टैंकों का निर्माण कार्य प्रस्तावित है।जलशक्ति विभाग वर्तमान में नगर निगम क्षेत्र में 78 लाख लीटर पानी की आपूर्ति कर रहा है जबकि निगम क्षेत्र में 1.40 करोड़ लीटर पानी की आवश्यकता है। वर्तमान में दिन में एक समय ही पेयजल की आपूर्ति हो रही है। निगम क्षेत्र में शामिल हुईं ग्राम पंचायतों और आबादी बढ़ने के कारण पानी की खपत बढ़ गई है। पर्याप्त मात्रा में पानी न मिलने के कारण लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

नगर निगम पालमपुर की एक पेयजल योजना के लिए एएफडी के तहत 135 करोड़ 40 लाख रुपये, जबकि दूसरी योजना के लिए प्रदेश सरकार से 48 करोड़ रुपये की स्वीकृत हुए हैं। जलशक्ति विभाग पालमपुर के अधीशासी अभियंता को नगर निगम क्षेत्र की दोनों पेयजल योजनाओं की टेंडर औपचारिकताएं शीघ्र पूरी करने के बाद निर्माण कार्य शुरू करने के निर्देश दिए हैं। -ई. दीपक गर्ग, अधीक्षण अभियंता, जलशक्ति विभाग कांगड़ा स्थित धर्मशाला।नगर निगम क्षेत्र पालमपुुर के लिए स्वीकृत दोनों पेयजल योजनाओं के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के बाद कार्य शुरू कर दिया जाएगा। तीन साल के भीतर इन दोनों पेयजल योजनाओं का कार्य पूरा किया जाएगा। इन योजनाओं का शहर के लोगों को बहुत फायदा होगा।



Post a Comment

0 Comments

सात एचपीएस अधिकारियो को पुलिस अधीक्षक का रूप मे नियुक्ति