Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

10,500 फीट की ऊंचाई पर विराजमान माता बूढ़ी नागिन की पवित्र झील सरयोलसर की होगी फेंसिंग

                                                        सरयोलसर झील की होगी होगी फेंसिंग

कुल्लू,ब्यूरो रिपोर्ट 

10,500 फीट की ऊंचाई पर विराजमान माता बूढ़ी नागिन की पवित्र झील सरयोलसर की फेंसिंग की जाएगी। झील में लकड़ी की फेंसिंग हैं जो खराब हो गई है। विधायक लाेकेंद्र कुमार ने फेंसिंग के लिए विधायक निधि से तीन लाख रुपये देने की बात कही।

वह 31 दिसंबर को माता बूढ़ी नागिन के दर्शन करने के लिए सरयोलसर पहुंचे थे। इसके अलावा झील के साथ लगी पहाड़ी पर दो शौचालयों का भी निर्माण किया जाएगा। इसके लिए राशि जिला परिषद सदस्य जीवन ठाकुर की ओर से प्रदान की जाएगी। इसके साथ ही मंदिर कमेटी ने माता के मंदिर के कपाट भी बंद कर दिए हैं।

अब श्रद्धालु 15 अप्रैल के बाद ही माता के दर्शन कर सकेंगे। कपाट बंद होने से यहां पर पूजा पाठ नहीं होगा। इस बार बर्फबारी नहीं होने से माता के मंदिर के कपाट डेढ़ माह देरी से बंद किए गए। पहले मंदिर 15 नवंबर को बंद कर दिया जाता था। रविवार को यहां पर कई राज्यों के पर्यटक पहुंचे और माता के दर्शन किए गए।कारकून भागे राम राणा ने कहा कि झील के चारों तरफ अब लोहे की फेंसिंग की जाएगी। 

इसका पूरा खर्च विधायक लाेकेंद्र कुमार की ओर से किया जाएगा। माता की पवित्र स्थली सरयोलसर में सालाना एक लाख से अधिक श्रद्धालु पहुंचते हैं। उन्होंने कहा कि मंदिर के कपाट को सर्दी के मौसम को देखते हुए बंद कर दिया है। इस मौके पर जिला परिषद सदस्य जीवन ठाकुर, वेद ठाकुर सहित कई लोग मौजूद रहे। 



Post a Comment

0 Comments

करोना योद्धा समाजसेवी बाबा त्रिलोक नाथ को राजधानी शिमला में मिला देवभूमि अचीवर अवॉर्ड