Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

ऊना जिले में शीतलहर का प्रकोप लगातार जारी

                                                ऊना में शीतलहर, कोहरे से जनजीवन अस्त-व्यस्त

ऊना,रिपोर्ट अविनाश चौहान 

ऊना जिले में शीतलहर का प्रकोप लगातार जारी है। कोहरे की मार ने लोगों की परेशानी को बढ़ा दिया है। सर्द हवाओं के बीच लोहड़ी से एक दिन पहले शुक्रवार को बेहद कम लोग बाजार में खरीदारी करने पहुंचे। हालांकि, मूंगफली की थोक की दुकानों पर लोग खरीदारी करते नजर आए। जानकारी के अनुसार जिले में न्यूनतम तापमान दो डिग्री से भी नीचे आ चुका है। 

वहीं अधिकतम तापमान भी दस डिग्री के आसपास है। ऐेसे में सुबह व शाम के साथ अब दोपहर के समय भी लोग शीतलहर से जूझ रहे हैं। खासकर दोपहिया वाहन चालकों को आवाजाही में खासी परेशानी हो रही है। दुकानदार व अन्य कार्यस्थलों पर लोग हीटर व आग जलाकर सर्दी से बचने का रास्ता ढूंढ रहे हैं। गुरुवार की तरह शुक्रवार सुबह की शुरुआत भी घनी धुंध के साथ हुई। हालांकि, लोगों की उम्मीद थी कि दोपहर तक धूप खिलेगी और सर्दी से राहत मिलेगी। लेकिन कुछ क्षण के लिए खिली हल्की धूप के बाद सूर्यदेव नजरों से ओझल हो गए और पूरा क्षेत्र दोबारा सर्दी की जकड़ में आ गया। 

उधर, सर्दी के बीच शहर में कश्मीरी कांगड़ी की जमकर बिक्री हो रही है। इसकी कीमत 300 रुपये के आसपास है और सर्दी से बचाव के लिए लोग इसे बेहद कारगर मान रहे हैं। शहर के दुकानदार विवेक ने बताया कि उमकी दुकान पर कश्मीर से एक व्यक्ति सामान की बिक्री के लिए पहुंचे हैं। कहा कि अन्य सामान के साथ कश्मीर में सर्दी से बचने के लिए इस्तेमाल होने वाली कांगड़ी की भी जमकर बिक्री हो रही है। लोग इसे काफी पंसद कर रहे हैं और दिन में औसतन पांच कांगड़ी की बिक्री हो जाती है। मौसम विशेषज्ञ विनोद शर्मा ने बताया कि जिले में सर्दी की मार यूंही जारी रहेगी। कहा कि जनवरी माह के अंत में कुछ राहत मिल सकती है। कहा कि लोग सर्दी को ध्यान में रखते हुए गर्म कपड़ों के बिना बाहर न निकलें।



Post a Comment

0 Comments

4 मार्च से ऊना-हरिद्वार ट्रेन सेवा शुरू होगी