Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

राइड विद प्राइड की एचआरटीसी में सफर होगा जोखिम

                                                एचआरटीसी ड्राइव विद प्राइड टैक्सी में सफर का खतरा कम नहीं है

चम्बा , ब्यूरो रिपोर्ट

शहर में सवारियों को राइड विद प्राइड में बहुत अधिक लोड कर दिया गया है। परिवहन निगम की इलेक्ट्रिक वैन में सात लोग बैठ सकते हैं। इनमें बारह से अधिक लोग होंगे। ऐसे में जनता की सुविधा के लिए शुरू की गई यह सेवा दुर्घटना का कारण बन सकती है। 


यह हैरान करने वाला है कि इन इलेक्ट्रिक वैनों को निगम प्रबंधन की टीमें भी देख नहीं रही हैं। पहरवनि निगम ने मुगला और भरमौर चौक से मेडिकल कॉलेज तक दो इलेक्ट्रिक वैन चलाए हैं। हर दिन ये वैन भर जाते हैं। इतना ही नहीं, बहुत से लोग वैन में लटक कर सफर करते हैं। निगम ओवरलोडिंग को नियंत्रित नहीं कर रहा है। 


लोगों की सुविधा के लिए परिवहन निगम ने चार इलेक्ट्रिक वैन चलाए हैं। लंबे समय से इनमें से दो इलेक्ट्रिक वैन खराब हो गए हैं। आज तक उनकी मरम्मत नहीं हुई है। जिले में सिर्फ दो इलेक्ट्रिक वैन सवारियां लेकर दौड़ रहे हैं। क्षमता से अधिक सवारियां होने पर इनमें भी अधिक यात्री बैठाए जाते हैं। 


वीरवार को इलेक्ट्रिक वैन भी बहुत भरी हुई थीं। वाहन चालकों ने क्षमता से अधिक लोगों को वैन में बैठाकर उनकी जान को भी जोखिम में डाल दिया है। एचआरटीसी चंबा डिपो के क्षेत्रीय प्रबंधक शुगल सिंह ने बताया कि राइड विद प्राइड में सात लोगों के बैठने की क्षमता है। सवारियों की आपसी सहमति से अक्सर क्षमता से अधिक लोग बैठते हैं। 


बताया कि इंस्पेक्शन विंग की टीमें, बसों समेत, समय-समय पर राइड-विद-प्राइड की सामान्य जांच करती हैं। टिकट के बिना सवार होते हैं। कहते हैं कि दो इलेक्ट्रिक वैन खराब हैं। इन्हें साफ करके फिर से चलाया जाएगा। 


Post a Comment

0 Comments