Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

मालवाहक वाहनों में सफर कर मौत को दावत देने वाले श्रद्धालु

                            मालवाहक वाहनों में सफर करने वाले श्रद्धालु

ऊना, ब्यूरो रिपोर्ट 

ऊना-हमीरपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर चैत्र महीने से वाहनों की आवाजाही बढ़ी है। जबकि दुर्घटनाओं की संभावना आमूमन बढ़ जाती है, श्रद्धालु भी मालवाहक वाहनों में यात्रा करते हैं। 


ऐसे में पुलिस की जिम्मेदारी और अधिक बढ़ गई है। हरीनगर के पास गत दिवस श्रद्धालुओं का एक टेंपो अनियंत्रित होकर सड़क पर पलट गया। हादसे में एक व्यक्ति मर गया और लगभग बारह लोग घायल हो गए। कितने लोग मर जाते अगर हादसा एक मोड़ आगे होता। 


यह पहली बार नहीं है कि मालवाहनों पर सवार श्रद्धालु दुर्घटना का शिकार होते हैं। इससे पहले भी मैड़ी, मां चिंतपूर्णी दरबार और बाबा बालक नाथ सहित अन्य धार्मिक स्थानों को जाने वाले मालवाहक वाहन दुर्घटनाओं का शिकार हुए हैं, लेकिन लोगों की लापरवाही नहीं थम रही है और पुलिस की सख्ती नहीं बढ़ी है। 


मालवाहक वाहनों में सफर करते हुए पंजाब से आने वाले श्रद्धालुओं में अधिकांश लोग बड़े शहरों से गुजरते हैं, लेकिन कार्यवाही के नाम पर खानापूर्ति की जाती है। पुलिस, खासकर बंगाणा और अंब, ने हमेशा ढिलमुल रवैया अपनाया। सीमावर्ती इलाकों में आने वाले श्रद्धालु बेरोकटोक तरीके से राज्य में प्रवेश करते हैं। 


पुलिस और होमगार्ड के जवान भी इस दौरान बेबस दिखते हैं। डीएसपी हेडक्वार्टर अजय ठाकुर ने कहा कि पुलिस ऐसे मामलों पर कार्रवाई तो करती है, लेकिन पंजाब पुलिस का सहयोग नहीं मिलता। ऐसे में वहां से बहुत सारे श्रद्धालु आते हैं, जिन्हें रोकना भी जिला पुलिस के लिए मुश्किल होता है। उनका कहना था कि पंजाब पुलिस के सहयोग के बिना ऐसे मामलों को पूरी तरह से रोकना असंभव है। 

Post a Comment

0 Comments

आशीष बुटेल के राजनीतिक प्रहार पर प्रवीन कुमार का पलट वार जव प्रदेश में आपदा आई थी तो किशन कपूर एम्स में उपचाराधीन थे