Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

मेडिकल लाइसेंस प्राप्ति के लिए नेक्सट पास की आवश्यकता

                                 चिकित्सक का लाइसेंस लेने के लिए नेक्सट पास करना आवश्यक है

मंडी, ब्यूरो रिपोर्ट 

अब डॉक्टर बनने और लाइसेंस पाने के लिए एनएमसी नेक्सट पास करना होगा। यह भारत में एमबीबीएस छात्रों को चिकित्सा का अभ्यास करने और लाइसेंस प्राप्त करने की एकमात्र परीक्षा होगी। परीक्षा दो चरणों में की जाएगी।


 उम्मीदवारों का सैद्धांतिक और व्यावहारिक ज्ञान इसमें जांचा जाएगा।  यह परीक्षा एक बार लागू होने के बाद नीट पीजी और एफएमजीई की परीक्षाओं की जगह ले लेगी, जो विदेशी मेडिकल स्नातकों को भारत में चिकित्सा अभ्यास में पंजीकरण प्राप्त करने के लिए करवाई जाती है। 


हाल ही में, अटल मेडिकल और अनुसंधान विश्वविद्यालय नेरचौक ने एमबीबीएस की पढ़ाई में कई बदलाव किए हैं। विवि ने इस ओर जाने की पूरी तैयारी कर ली है। 2025 तक परीक्षा होगी। एक बार परीक्षा शुरू हो जाएगी, कोई भी डॉक्टर इसे पास नहीं कर सकेगा। 


डॉ. प्रवीण शर्मा, अटल मेडिकल और अनुसंधान विश्वविद्यालय नेरचौक के परीक्षा नियंत्रक, कहते हैं कि परीक्षा का उद्देश्य देश भर में मेडिकल स्नातक की शिक्षा और प्रशिक्षण के न्यूनतम सामान्य मानकों को एकरूपता देना है। 1997 के बाद विश्वविद्यालय ने एमबीबीएस की पढ़ाई में व्यापक परिवर्तन करके 2025 में इस परीक्षा को करवाने के लिए भी काम किया है।


 नेक्सट परीक्षा की प्रक्रिया को शुरू करने के लिए अटल मेडिकल एवं अनुसंधान विश्वविद्यालय नेरचौक ने दाखिलों से लेकर परीक्षाओं तक कई बदलाव किए हैं। विद्यापीठ ने इसमें कई बदलाव किए हैं, जैसे उपस्थिति, अवधि, प्रैक्टिकल, थ्योरी, पेपर और अंकों। भविष्य की नेक्सट परीक्षा को ध्यान में रखते हुए ये सुधार किए गए हैं।

Post a Comment

0 Comments

टकारला में खेत में पड़ा पशुचारा (तूड़ी) जलकर राख