Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

पहाड़ों में हो रही बर्फबारी से तापमान में गिरावट

                                    पहाड़ों में बर्फबारी और भारी बारिश, किसानों के लिए नई मुश्किलें

शिमला , ब्यूरो रिपोर्ट 

रविवार को हिमाचल प्रदेश में मौसम अच्छा रहा। धर्मशाला, कोकसर और रोहतांग सहित राज्य की सबसे ऊंची चोटियों पर अभी भी बर्फबारी हो रही है। हल्की बारिश ने शिमला, कुल्लू, चंबा और धर्मशाला के निचले इलाकों में नुकसान पहुँचाया। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता ने राज्य में मौसम में परिवर्तन किया है। 




सोमवार को भी मौसम विज्ञान केंद्र ने प्रदेश में भारी बारिश, अंधड़ और ओलावृष्टि का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। 16 अप्रैल को भी बदतर मौसम रहेगा। 17 अप्रैल को प्रदेश में मौसम साफ रहेगा, लेकिन 18 अप्रैल से फिर बारिश-बर्फबारी होने की उम्मीद है। 


19 और 20 अप्रैल को एक बार फिर येलो अलर्ट जारी किया गया। बारिश और बादल छाए रहने से निचले इलाकों में लोग गर्मी से बच गए हैं। शिमला और उच्च क्षेत्रों में पारा गिर गया है। रविवार को जिला कुल्लू और लाहौल-स्पीति में मौसम एक बार फिर खराब हुआ। रविवार सुबह निचले क्षेत्रों में बारिश हुई, लेकिन रोहतांग दर्रा, धर्मशाला सहित राज्य की ऊंची चोटियों पर बर्फबारी हुई। दोपहर तक बारिश जारी रही। 


मनाली से केलांग के बीच अटल टनल रोहतांग से वाहन चलते रहे। वीकेंड पर घूमने वाले लोग लाहौल के सिस्सू, कुठ बिहाल, उत्तरी और दक्षिणी पोर्टल पहुंचे और बर्फीली वादियों का आनंद लिया। रविवार को केलांग में सबसे कम 2.9 डिग्री सेल्सियस का तापमान था। 


बिलासपुर का सर्वोच्च तापमान 35.5 डिग्री सेल्सियस था। राज्य में बारिश से गेहूं की फसल बर्बाद हो रही है। जिन क्षेत्रों में गेहूं की कटाई शुरू की जानी है, वहां इसमें देरी हुई है, और जहां फसल काटकर रखी गई है, वहां इसकी हालत बदतर हो रही है। इसलिए बारिश गेहूं की फसल के लिए अच्छी नहीं है।


Post a Comment

0 Comments

आदित्य राणा सपैडू व काजल कपूर पट्टी ( चन्दरोपा ) ने किया पालमपुर का नाम रोशन