Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

पासू पंचायत में तीन माह पहले मांझी खड्ड में बहा पुल आज भी वैसा

                                          अब सरकार पर ग्रामीणों का गुस्सा फूटा दे दी चेतावनी 

काँगड़ा,ब्यूरो रिपोर्ट 

विधानसभा धर्मशाला की पासू पंचायत में तीन माह पहले मांझी खड्ड में बहा पुल आज दिन तक दोबारा नहीं बन पाया है। दो माह बाद बरसात आ जाएगी और ग्रामीणों को फिर पुल न होने के कारण 10 किलोमीटर का अतिरिक्त सफर तय करना पड़ेगा। लंबे समय से परेशान ग्रामीणों ने सरकार के चेतावनी दी है कि एक माह के भीतर पुल को पूरी तरह से तैयार नहीं किया तो आने वाले लोकसभा और विधानसभा के उपचुनाव का हजारों ग्रामीण बहिष्कार करेंगे।

न तो लोकसभा में किसी पार्टी को वोट देंगे और न ही विधानसभा के उपचुनाव में मतदान करेंगे।ग्रामीणों का कहना है कि 12 जुलाई, 2021 को मांझी खड्ड में आई बाढ़ के कारण मुख्य सड़क के दो पंचायतों को जोड़ने वाला पुल टूट गया था। इस वजह से उन्हें बरसात के दिनों में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कई बार भाजपा-कांग्रेस सरकार और प्रशासन से इस पुल को दोबारा बनाने की मांग की गई, लेकिन तीन सालों में यह पुल बनकर तैयार नहीं हो पाया है। 

2022 में तत्कालीन विधायक ने नए पुल का शिलान्यास किया, लेकिन काम शुरू नहीं हो पाया। इसके बाद वर्ष 2023 में तत्कालीन विधायक सुधीर शर्मा ने इसी पुल का भूमि पूजन किया, लेकिन मौजूदा समय में पुल के दोनों और पिल्लर बनाकर कार्य को आधे में छोड़ दिया गया है। अब लोगों को फिर से बरसात की चिंता सताने लगी है। वहीं, ठेकेदार का कहना है कि पुल को पूरा करने के लिए लोक निर्माण विभाग की ओर से पैसे नहीं दिए जा रहे हैं।



Post a Comment

0 Comments

घर-घर से कूड़ा उठाने के बाद भी जिला मंडी गदंगी में