Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

आपदा से बैकफुट पर आई कुल्लू घाटी अब पटरी पर

                               ग्रीन टैक्स बैरियर मनाली में पर्यटकों को अगले सप्ताह मिलेगी फास्टैग सुविधा

कुल्लू,ब्यूरो रिपोर्ट 

आपदा से बैकफुट पर आई कुल्लू घाटी अब पटरी पर आने लगी है। मनाली के आलू ग्राउंड के पास स्थापित ग्रीन टैक्स बैरियर पर अब फिर से ऑनलाइन फास्टैग सुविधा मिलने जा रही है। इन दिनों बैरियर में तीन दिनों से इसका ट्रायल चल रहा है। पर्यटन विभाग अगले सप्ताह से इस सेवा को सैलानियों की सुविधा के लिए शुरू करने कर देगा। पर्यटन सीजन में रोज 3000 से 4500 पर्यटक वाहन मनाली आते हैं।

पिछले साल बरसात में आई आपदा के दौरान ब्यास नदी के रौद्र रूप में आलू ग्राउंड में स्थापित ऑनलाइन ग्रीन टैक्स बैरियर भी बह गया था। इसके बाद पर्यटन विभाग ने आपदा को देखते हुए यहां ऑफलाइन भी सैलानियों से ग्रीन टैक्स लेना बंद कर दिया था। सड़क की हालत ठीक होने पर अक्तूबर-नवंबर के बाद से पर्यटन विभाग ने ग्रीन टैक्स लेना शुरू किया है।अभी तक यहां दो-तीन कर्मचारियों की तैनाती कर पर्ची से टैक्स लिया जाता है। ऐसे में यहां जाम लगने से आम लोगों के साथ सैलानियों को परेशान होना पड़ रहा है।

 अब यह समस्या जल्द दूर होने वाली है और अगले सप्ताह से सैलानी ग्रीन टैक्स फास्टैग के जरिए दे सकेंगे।जानकारी के अनुसार ग्रीन टैक्स बैरियर से सालाना चार से पांच करोड़ रुपये की आमदनी होती है। इस राशि को जिला कुल्लू की ऊझी घाटी की नौ पंचायतों के विकास पर भी खर्च किया जाता है। जिला पर्यटन अधिकारी सुनयना शर्मा ने कहा कि अब फास्टैग से ग्रीन टैक्स लिया जाएगा। इन दिनों इंजीनियर की देखरेख में ट्रायल का काम चल रहा है। आने वाले हफ्ते से सैलानियों की सुविधा के लिए सुचारु किया जाएगा।




Post a Comment

0 Comments

टकारला में खेत में पड़ा पशुचारा (तूड़ी) जलकर राख