Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

दूसरे साल भी अप्रैल में सामान्य से ज्यादा बरसे बादल

                                         30 अप्रैल तक सामान्य से पांच फीसदी अधिक हुई बारिश 

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

हिमाचल प्रदेश में लगातार दूसरे साल अप्रैल में सामान्य से ज्यादा बादल बरसे हैं। इस वर्ष एक से 30 अप्रैल तक सामान्य से पांच फीसदी अधिक बारिश हुई। वर्ष 2023 में अप्रैल के दौरान सामान्य से 63 फीसदी अधिक बारिश हुई थी। 2022 में सामान्य से 89 फीसदी कम बारिश दर्ज हुई थी। 

दस साल बाद शिमला में अधिकतम तापमान भी सबसे कम रिकॉर्ड हुआ। इस वर्ष अप्रैल के अधिकांश दिन ठंडे मौसम में ही बीते। राजधानी में 26 अप्रैल को इस माह का सबसे अधिक 26.6 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान दर्ज हुआ। पहले के वर्षों में अप्रैल के दौरान पारा 28 डिग्री तक जाता था। प्रदेश के मैदानी जिला ऊना में भी इस बार अप्रैल में सिर्फ एक बार अधिकतम तापमान 40 डिग्री तक पहुंचा।बिलासपुर, हमीरपुर और कांगड़ा में अधिकतम पारा 37 और 38 डिग्री तक ही रहा।

https://www.cgc.ac.in/course/all-courses/?utm_source=himchalfirstfast&utm_medium=babushahi&utm_campaign=himchalfirstfast

 राजधानी शिमला सहित ऊंचाई वाले अधिकांश क्षेत्रों में अभी भी ठंड से बचाव के लिए जैकेट और स्वेटर पहनने पड़ रहे हैं। ठंड के कारण सर्दी-जुकाम और बुखार से पीड़ित दर्जनों मरीज रोजाना अस्पतालों में उपचार के लिए पहुंच रहे हैं। ऊना में साल 2022 के दौरान अधिकतम तापमान 43 डिग्री तक पहुंचा था। 2023 में पारा 40 डिग्री को भी नहीं छू सका। इस बार सिर्फ एक बार 26 अप्रैल को ऊना का पारा 40 डिग्री पहुंचा। राजधानी शिमला में अप्रैल के दौरान अधिकांश दिनों में अधिकतम तापमान औसतन 20 और 22 डिग्री के बीच ही रहा। उधर, अप्रैल के दौरान प्रदेश में 67.3 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई। इस अवधि में 64 मिलीमीटर बारिश को सामान्य माना गया है।




Post a Comment

0 Comments

टकारला में खेत में पड़ा पशुचारा (तूड़ी) जलकर राख