Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

चिलचिलाती गर्मी से राहत के लिए पर्यटक ने दी कांगड़ा घाटी में दस्तक

                                           मैदानों में बढ़ा पारा, मैक्लोडगंज बना सैलानियों का सहारा

काँगड़ा,ब्यूरो रिपोर्ट 

मैदानों की चिलचिलाती गर्मी से राहत के लिए पर्यटक कांगड़ा घाटी में दस्तक दे रहे हैं। जिला मुख्यालय धर्मशाला, मैक्लोडगंज और आसपास के क्षेत्रों में स्थित होटलों में पर्यटकों की आमद से होटलियर्स खुश हैं। हालांकि पहाड़ भी कम गर्म नहीं हैं, लेकिन सोमवार को दोपहर बाद हुई हल्की बारिश ने कुछ हद तक गर्मी से घाटी को राहत प्रदान की है।

हालांकि दिन के समय धर्मशाला सहित आसपास के क्षेत्रों में भी अच्छी खासी गर्मी पड़ रही है, जबकि फिर भी पहाड़ों पर मैदानी क्षेत्रों के मुकाबले काफी राहत है, यही वजह है कि पर्यटकों की संख्या में वृद्धि हो रही है।मार्च-अप्रैल की बात करें तो वीकेंड पर तो मैक्लोडगंज में भीड़ उमड़ रही थी, लेकिन अन्य दिनों में आक्यूपेंसी 30 से 35 फीसदी रह गई थी। जबकि मई में वीकेंड पर आक्यूपेंसी 60 से 70 फीसदी पहुंच रही है, जबकि अन्य दिनों में आक्यूपेंसी 50 से 55 फीसदी दर्ज की गई है। 

इससे स्पष्ट है कि भले ही मैदानी क्षेत्रों की तर्ज पर पहाड़ पर भी गर्मी पड़ रही है, इसके बावजूद सुबह व शाम के समय पहाड़ का मौसम सुहावना है। यही सोचते हुए पर्यटक मैदानी क्षेत्रों की चिलचिलाती गर्मी से राहत पाने के लिए पहाड़ की शांत वादियों में पहुंच रहे हैं।होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन धर्मशाला के अध्यक्ष अश्वनी बांबा का कहना है कि वीकेंड पर धर्मशाला-मैक्लोडगंज के होटलों में 60 से 70 प्रतिशत आक्यूपेंसी पहुंच रही है। जबकि अन्य दिनों में भी 50 से 55 प्रतिशत ऑक्यूपेंसी रह रही है। आगामी दिनों के लिए एडवांस बुकिंग चली है।





Post a Comment

0 Comments

पालमपुर की बेटी प्रणवी सूद ने किया जिले का नाम गर्व से ऊँचा